उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
महिला पुलिस अधिकारी ने पुलिस स्टेशन में बनाया टिकटॉक वीडियो 
महिला पुलिस अधिकारी ने पुलिस स्टेशन में बनाया टिकटॉक वीडियो |Social Media
वायरल बुलेटिन

टिक-टॉक के लिए क्रेजी थी लेडी पुलिस अधिकारी, उसके बाद जो हुआ वो उनके कर्मों की सजा है 

बिना वर्दी पहने मचा दिया तहलका 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

चाइनीज मोबाइल ऐप टिकटॉक भारत में बहुत लोकप्रिय है। लोगों पर टिकटॉक का फीवर इस कदर चढ़ा है कि वे कहीं भी कभी भी वीडियो बनाने के लिए तैयार रहते हैं। टिकटॉक में वीडियो बनाने का एक नया मामला गुजरात से आया है। जहां टिकटॉक की क्रेजी एक महिला पुलिस अधिकारी ने थाने में ही वीडियो बना डाला। पुलिस थाने में बना यह वीडियो देखते ही देखते वायरल हो गया। और महिला पुलिस अधिकारी की वर्दी उतर गई।

दरअसल यह वीडियो गुजरात के मेहसाणा में स्थित लंघनाथ पुलिस स्टेशन का है। जहां तैनात एक महिला पुलिस अधिकारी ने पहले तो थाने के अंदर अपना एक टिकटॉक वीडियो बनाया और ऐप्प पर अपलोड कर दिया। हालांकि महिला ने पुलिस की वर्दी तो नहीं पहनी थी लेकिन वीडियो पुलिस थाने के अंदर का था।जैसे ही वीडियो वायरल हुआ लोग पुलिस पर सवाल करने लगे। जिसके बाद महिला पुलिसकर्मी को सस्पेंड कर दिया गया। महिला पुलिस अधिकारी का नाम अर्पिता चौधरी है।

महिला पुलिस अधिकारी की इस हरकत पर गुजरात पुलिस ने कहा कि यह हमारे नियमों का उल्लंघन है। पहले तो उन्होंने पुलिस स्टेशन में वीडियो बना कर स्टेशन की मर्यादा तोड़ी है उपर से ड्यूटी के दौरान वर्दी भी नहीं पहनी है। अभी तो उन्हें ससपेंड किया जा रहा है इसके बाद उनके खिलाफ बड़ा एक्शन लेंगे। 

उठ चुकी है टिकटॉक को बैन करने की मांग

पिछले दिनों टिकटॉक ऐप पर अश्लीलता फ़ैलाने का आरोप लगाते हुए इसे भारत में बैन करने की मांग की गई थी। कुछ दिनों तक इसके डाउनलोड करने पर भी बैन लगा था। जिसे बाद में हटा दिया गया। शिकायतों में कहा गया था कि यह बच्चों की यौन उत्तेजना को बढ़ावा देता है। हालांकि इसपर कंपनी ने कहा था कि अब वो अपने कंटेंट पर विशेष ध्यान देते हैं कोई भी आपत्तिजनक कंटेंट टिकटॉक से तुरंत डिलीट कर दिया जाता है। भारत में 120 मिलियन लोग टिकटॉक का इस्तेमाल करते हैं।