Prashant Pandey Vikas Dubey Fan
Prashant Pandey Vikas Dubey Fan|Social media (edited)
नजरिया

चले थे विकास दुबे की वाहवाही करने, पुलिस ने धर के रेल दिया

विकास दुबे का पक्ष लेना और सीएम योगी को ब्राह्मण विरोधी कहना इस युवक को महंगा पड़ा।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

उत्तर प्रदेश के चंदौली जिले के एक युवक को कानपुर हत्याकांड में मुख्य आरोपी विकास दुबे की बड़ाई करने और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बारे में अपशब्द कहने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। युवक इस मामले में आरोपी विकास दुबे का पक्ष लेकर विकास को सही ठहराने की कोशिश कर रहा था।

ब्राम्हणवाद में साहबजादे निकले थे अलख जगाने:

मामला अभिव्यक्ति की फर्जी आजादी से है जहां पर लोग कुछ भी कहने के लिए मुँह खोले बैठे रहते है कुछ ऐसा ही हुआ है उत्तर प्रदेश के चंदौली जिले में जहाँ पर प्रशांत पांडेय पुत्र विजय पांडेय ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट करके अपने विचार साझा किए, पोस्ट में यह बात कही गयी थी कि योगी आदित्यनाथ ब्राम्हण विरोधी है और कानपुर में जो हुआ वो अच्छा हुआ है। विकास दुबे को उसके ब्राम्हण होने पर साजिश के तहत फंसाया जा रहा है। वक्त आने पर सबका हिसाब किया जाएगा हालांकि इसके तुरंत बाद पुलिस ने पुख्ता सबूत जुटाकर प्रशांत निवासी विजोरा थाना सकलडीहा के खिलाफ मु आ स 86/20 धारा 504/505 आईपीसी एवं 67 आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज करके जेल भेज दिया है।

इस प्रकार के जातिवादी मानसिकता पर बिहार के डीजीपी भी बड़े तल्ख होकर बोलते हुए नजर आए बिहार डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा, अगर विकास बिहार आया तो हम आरती उतारेंगे।

मामले को लेकर उत्तर प्रदेश पुलिस हर संभव इस प्रयास में है कि आपराधिक नेचर के लोग कभी भी समाज का आइडल न बन पाए लेकिन उत्तर प्रदेश की राजनीति में हमेशा से जातिवाद और अपराध इस प्रकार मिश्रित रहा है कि लोग अपराधियों को अपना आराध्य या जाति का सिरमौर बताने से नहीं चूकते।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com