टाटा कंपनी के मशहूर ज्वैलरी ब्रांड तनिष्क ने ऐसा विज्ञापन क्यों बनाया, जिसपर इतना बवाल मच गया?

तनिष्क बेशकीमती आभूषण बनाने वाला भारत का दिग्गज ब्रांड है यह टाटा ग्रुप की टाइटन कंपनी का हिस्सा है, बीते कुछ दिनों से तनिष्क बेहद चर्चा में है और विवाद की जड़ है एक विज्ञापन
टाटा कंपनी के मशहूर ज्वैलरी ब्रांड तनिष्क ने ऐसा विज्ञापन क्यों बनाया, जिसपर इतना बवाल मच गया?
tanishq jewellery advertisementGoogle Image

हिन्दू लड़की को मुस्लिम परिवार की बहू दिखाए जाने पर हुआ बवाल:

हालाँकि अगर ट्रेंड विशेषज्ञों की माने तो भारत अभी उतना मेच्योर नहीं हुआ जिसके लिए तनिष्क (tanishq) ने यह वीडियो बनाया था, जो भी हो किसी भी कंपनी का मूल मोटो अपने उत्पाद को बढ़ा-चढ़ाकर दिखाना होता है इसी चक्कर में तनिष्क ने कुछ ऐसा दिखा दिया जिसको लेकर बवाल खड़ा हो गया।

तनिष्क के बनाये गए वीडियो में एक मुस्लिम परिवार अपने घर को सजाते हुए नजर आता है और बैकग्राउंड में एक नैरेशन चलता रहता है जिसके शब्द है....

"रिश्ते है कुछ नए-नए, धागे है कच्चे-पक्के, अपनेपन से इन्हें सहलायेंगे, प्यार पिरोते जाएंगे, एक से दूजा सिरा जोड़ लेंगे, एक बंधन बुनते जाएंगे"

इस कथानक के साथ-साथ एक स्टोरी भी चलती रहती है जिसमें एक हिन्दू महिला दिखाई जाती है जिसका विवाह एक मुस्लिम परिवार में हुआ है, कुल मिलाकर हिन्दू महिला का मुस्लिम परिवार में विवाह हुआ है और अब वह गर्भवती है, उसके बाद ने नैरेशन में गर्भवती महिला मुस्लिम महिला से सवाल करती है कि ये रस्म (गर्भवती महिला की गोद भराई) नहीं होती, इस पर मुस्लिम महिला का जवाब आता है कि बिटिया को खुश रखने की रस्म तो हर घर मे होती है न, एक जो हुए हम फिर क्या अलग रह जाएंगे, एकत्वम बाय तनिष्क"

दरअसल सारा विवाद इसी एकत्वम से ही शुरू हो गया, यहां आखिर बवाल कटा गर्भवती महिला के हिन्दू होने की वजह से वह भी ऐसे वक्त में जब दिल्ली की सकरी गलियों में एक युवक को इसलिए मार दिया गया क्योंकि वह मुस्लिम समुदाय की लड़की से प्रेम करता था, ऐसे माहौल में तनिष्क के इस प्रचार ने सोशल मीडिया पर तूफान खड़ा कर दिया।

tanishq jewellery advertisement
मुस्लिम लड़की से इश्क किया तो मिली मौत, हिन्दू होने के कारण लडकी के भाई ने राहुल की मार-मारकर हत्या कर दी

लोगों ने कहा आखिर लड़की हिन्दू ही क्यों:

दरअसल सारा विवाद महिला के धर्म और उसके द्वारा जिस परिवार के धर्म को बेहद सहिष्णुता के साथ दिखाया गया है वह न सिर्फ एक छलावा है बल्कि पहले से तैयार एक बेहद चर्चित प्रोपेगैंडा के तहत समाज मे प्रसारित किया जा रहा है, जिससे न सिर्फ समुदाय दूषित हो रहा है बल्कि लोगों के दिमाग पर एक परत चढ़ाने की कोशिश की जा रही है जबकि असलियत इससे कहीं ज्यादा अलग और भयावह है।

लोगों ने इस मामले को देखकर कई उदाहरण पेश किए जो हाल में हुई घटनाओं से प्रेरित थे।

लोगों ने कहा जिस वक्त लोग तनिष्क के विज्ञापन के कसीदे पढ़ रहे थे उसी वक्त लखनऊ विधानसभा के सामने समुदाय विशेष की वजह से धर्मांतरण की हुई महिला खुद को जलाने का प्रयास कर रही थी।

बहरहाल सोशल मीडिया पर बायकॉट तनिष्क फैला और स्टॉक एक्सचेंज पर भी तनिष्क को इसका घाटा उठाना और जनता के डर से तनिष्क ने इस वीडियो को शोसल मीडिया से हटा दिया लेकिन उसके बाद भी तनिष्क के खिलाफ लोगों का गुस्सा कम नहीं हो रहा है। वहीँ वीडियो हटाने के बाद बॉलीवुड की दुनिया से भी तनिष्क के वजूद को लेकर सवाल उठने लगे है, देश के लगभर हर बोलने और न बोलने वाले मामलों पर अपनी राय रखने वाली सिने अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने तो तनिष्क को बिना रीढ़ की हड्डी वाला करार दे दिया है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com