चीन की शाओमी कंपनी का असली चेहरा आया सामने, अरुणाचल को भारत का हिस्सा नहीं मानती ड्रैगन की पालतू कंपनी

शाओमी को लेकर भारत ने फिर पूंछे सवाल, कहा क्या अरूणाचल भारत का हिस्सा नहीं है?
चीन की शाओमी कंपनी का असली चेहरा आया सामने, अरुणाचल को भारत का हिस्सा नहीं मानती ड्रैगन की पालतू कंपनी
boycott china mobile phonesGoogle Image

अगर भारत की बात किसी भी चीनी नजरिये से की जाए तो उसमें चीनी रणनीति और उसके मंसूबो का आना बेहद तय है, चीन लंबे वक्त से भारत के अंदरूनी राज्यों समेत भारत चीन की सीमा पर स्थित अरुणाचल प्रदेश को भारत की विवादित जमीन मानता रहा है, जबकि भारत ने कई मोर्चों और मंचों पर चीन की इस नीति का न सिर्फ विरोध किया बल्कि चीन को आइना भी दिखाया है।

लेकिन अब चीन यह बात सीधे-सीधे न कहकर तकनीकी के माध्यम से लोगों के दिमाग मे जहर घोलने का काम कर रहा है। चीन ने अपने मूल की कंपनी शाओमी के स्मार्टफोन के जरिये अब नया बखेड़ा खड़ा करना शुरू किया है। लेकिन चीन की यह रणनीति शाओमी के ऊपर भारी पड़ने वाली है, दरअसल मामला स्मार्टफोन के एक फीचर वेदर (मौसम) रिपोर्ट से जुड़ा हुआ है, लगभग शाओमी के सभी स्मार्टफोन में यह एप इनबिल्ट रूप से उपलब्ध है जिसका काम भारत के हर शहर कस्बों के मौसम का हाल और पूर्वानुमान लगाना है लेकिन लोगों ने इस फीचर के जरिये भारत की अखंडता को चोट पहुँचाने की कोशिश करने का आरोप लगाया है।

इसपर फैला है सारा विवाद:

दरअसल बीते दिनों में लोगों ने शाओमी, एमआई, पोको के स्मार्टफोन्स पर ईटानगर शहर के मौसम का हाल जानना चाहा लेकिन शाओमी के तमाम फोन्स में यह लोकेशन "नो रिजल्ट" के रूप में सामने आई, लोगों ने इस मामले पर शाओमी की मानसिकता, सोच और उसके रवैये को लेकर सवाल खड़े करने शुरू कर दिए। लोगों ने शाओमी पर अपने आका चीन और उसकी नीति को लेकर आरोप लगाने शुरू किए, यह विवाद इतना व्यापक हो गया कि ट्विटर पर यह टॉप मोस्ट ट्वीट के रूप में तक जा पहुंचा।

दरअसल शाओमी पहले ही भारत मे चल रहे आत्मनिर्भर भारत अभियान और चायनीज बैन के हौआ से डरा हुआ है, इसी दौरान यह मामला सामने आने से शाओमी के लिए बेहद बुरी स्थिति बनती जा रही है, सनद रहे कि चीनी ठप्पा हटाने के चक्कर मे शाओमी ने पोको के नाम से मेड इन इंडिया ब्रांड बनाकर अपनी छवि सुधारने की कोशिश की लेकिन इस गलती ने शाओमी की मुश्किलें बढ़ा दी हैं।

boycott china mobile phones
माइक्रोमैक्स ने भरी हुंकार, कहा हम फिर से खड़े होंगे देश के लिए

इस मामले पर पहले शाओमी के बेहद प्रशंसकों में शामिल रहे बड़े टेक ब्लागर टेक्निकल गुरुजी (गौरव) ने भी शाओमी इंडिया और शाओमी इंडिया के मुखिया मनु जैन से सवाल पर सवाल दागे।

इस मामले पर शाओमी ने एक पुराना बेहद गैर चलताऊ बयान देकर पल्ला झाड़ लिया है।

शाओमी ने बताया कि "मौसम की जानकारी देने वाले एप में तकनीकी खामी की वजह से डाटा उपलब्ध नहीं हो पा रहा, यह महज एक तकनीकी समस्या है, हम इस पर कार्य कर रहे है और बेहद जल्द ही इसे सुलझा लिया जाएगा। हम इस एप में अपग्रेड करके उपभोक्ताओं के लिए नए अनुभव शामिल करने जा रहे हैं।

हालांकि देर सबेर यह जानकारी भी आई कि इस तकनीकी समस्या को हल कर लिया गया है, लेकिन जाहिर सी बात है कि शाओमी को भले ही थोड़ी देर के लिए ही सही लेकिन झटका सहना पड़ा।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com