Lifeline hospital Delhi Ward Boy Viral Video
Lifeline hospital Delhi Ward Boy Viral Video|Uday Bulletin
टॉप न्यूज़

दिल्ली में चिकित्साकर्मियों में क्यों फैल रहा है कोरोना? स्टाफ ने खोली पोल

एक वायरल वीडियो में निजी अस्पताल का कर्मी खुद बताता हुआ नजर आ रहा है कि अस्पताल में सफाई कर्मियों और नर्सिंग स्टाफ की जान कैसे खतरे में डाली जा रही है।  

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

अस्पताल के कर्मचारी ने खोली पोल :

वायरल वीडियो में एक कर्मी अपने अस्पताल " लाइफलाइन हॉस्पिटल " A-13 प्रदर्शनी विहार दिल्ली के बारे में जानकारी देता हुआ दिखाई दे रहा है कि कैसे निजी अस्पतालों में मरीज़ों समेत अस्पताल के कर्मियों की जान को खतरे में डालकर सरकार के नियमों को धता बताकर कोरोना जैसी गंभीर बीमारी को सिर्फ पैसों के लालच में फैलाने का काम किया जा रहा है। व्यक्ति अपने बारे में जानकारी देते हुए बताता है कि वह इसी अस्पताल में हाउस कीपिंग वार्ड ब्वाय के तौर पर काम कर रहा है पिछले दिन अस्पताल में एक गर्भवती महिला को भर्ती किया जाता है जहां पर उसे ऑपरेशन थियेटर में ले जाकर सर्जरी की जाती है और सिजेरियन प्रसव कराया जाता है। जहां पर हमारे द्वारा महिला को बिना किसी सुरक्षा उपकरणों के ऑपरेशन थिएटर में ले जाया जाता है। और सभी चिकित्सकीय कार्य पूरे किए जाते है उसके प्रसव के बाद हमें सूचित किया जाता है कि महिला कोरोना संक्रमित है अतः हमारे सभी कपड़े उतरवाकर चद्दर लपेटने पर मजबूर किया जाता है।

Ye mera bhai hai iske sath narshing home me jo khuch bhi hua hai isne is video me bataya hai Kripiya is video ko Delhi sarkar tak pohchayin please

Posted by Archana Vaid on Thursday, April 30, 2020

सरकारी नियमों की अनदेखी :

वैसे तो भारत सरकार और दिल्ली सरकार के द्वारा अस्पतालों के लिए निर्धारित गाइड लाइंस जारी की गई है लेकिन निजी अस्पतालों में पैसे बचाने और जांच न करने की वजह से स्टाफ की जान जोखिम में डाली जा रही है। पीडित व्यक्ति अपनी स्थिति बताते हुए कहता है कि एक लंबे समय से वह अपने घर नहीं जा पा रहा है वह बीमारों की सेवा में पूरी टीम के साथ जुटा हुआ है लेकिन डॉक्टर और अस्पताल की लापरवाही की वजह से आज उनकी जान पर खतरा मंडरा रहा है। वायरल वीडियो में कर्मी साफ-साफ कहते हुए सुना जाता है कि उसके और उसके पूरे स्टाफ के साथ धोखा किया गया है। इस संबंध में सरकार द्वारा कार्यवाही होनी चाहिए और सभी कर्मियों को पीपीई सुरक्षा किट उपलब्ध होनी चाहिए।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com