किसान की शिकायत पर मंत्री जी का ठनका माथा, खनन अधिकारी पर कार्यवाही करने के लिए दिए निर्देश

मंत्री जी पकड़ा खनन अधिकारी का झूठ, खनन अधिकारी ने मिट्टी लदी ट्राली को मौरंग बताकर किया था चालान
किसान की शिकायत पर मंत्री जी का ठनका माथा, खनन अधिकारी पर कार्यवाही करने के लिए दिए निर्देश
मिट्टी के बदले मौरंग दिखाकर ट्रैक्टर किये सीजuday bulletin

बुंदेलखंड में लालफीताशाही के नमूने दिखना बेहद आम है। यहाँ संतरी से दरोगा तक, चपरासी से बड़े अधिकारी तक का रुआब एक जैसा देखने को मिलता है और इनके रुआब को झेलना केवल आम गरीब आदमी को भुगतना पड़ता है। खासकर बुंदेलखंड के किसान जो लंबे वक्त से प्रकृति की मार से परेशान है वह इन्हीं अधिकारियों की कलम के फेर में पड़कर अपना जीवन बर्बाद कर देता है, ताजा मामला चित्रकूट जनपद से जुड़ा हुआ है।

मिट्टी के बदले मौरंग दिखाकर ट्रैक्टर किये सीज:

अब इसे अधिकारियों की मनमानी कहें या फिर अपनी अफसरशाही की हनक, बुंदेलखंड के चित्रकूट में तिल से ताड़ बनाने का मामला संज्ञान में आया है। दरअसल चित्रकूट के किसी किसान द्वारा अपने और अपने सहयोगियों के ट्रैक्टरों के द्वारा निजी उपयोग के लिए चार ट्राली मिट्टी खुद की जमीन से खोदकर ले जाई जा रही थी, चूंकि क्षेत्र में हर अवैध खनन कर्ता जिले के खनिज अधिकारी महोदय को चढ़ावा अवश्य चढ़ाता है लेकिन किसान ने ऐसा नही किया इसपर जिले के खनन अधिकारी द्वारा इन ट्रैक्टर ट्रालियों में लदी हुई मिट्टी को मौरंग दिखाकर वाहनों को सीज कर दिया और किसान को दर दर भटकने के लिए मजबूर कर दिया।

मंत्री जी ने उठाया कदम, मौके पर की पड़ताल:

संयोग से उत्तर प्रदेश के कबीना (कैबिनेट) मंत्री नंद गोपाल गुप्ता (नंदी) चित्रकूट प्रवास में थे और किसान ने किसी तरह यह बात मंत्री जी के पास पहुँचा दी, इस मामले पर कैबिनेट मंत्री ने सत्यता की पड़ताल करने के लिए खुद जहमत उठायी और पहुँच गए चित्रकूट पुलिस लाइन, मंत्री जी के अनुसार उन्हें यह जानना था कि कहीं किसान खुद के बचाव में झूठ तो नही बोल रहा है। लेकिन पुलिस लाइन में यह सच दूध की तरह साफ हो गया, दरअसल उन ट्रैक्टरों पर मौरंग नही केवल मिट्टी थी।

खनिज अधिकारी के इस कारनामे पर कैबिनेट मंत्री ने जिले के मुखिया जिलाधिकारी को भी खरी खोटी सुनाई और तत्काल प्रभाव से खनन अधिकारी के ऊपर कार्यवाही करने का निर्देश जारी किया है।

कैबिनेट मंत्री ने मीडिया के साथ किये गए वार्तालाप में बताया कि इस मामले को लेकर उच्चस्तरीय जांच कराई जाएगी, ताकि खनन अधिकारी के अन्य मामले भी प्रकाश में आ सके, मंत्री जी के इस रूप को देखकर पूरे महकमे में हड़कंप मचा हुआ है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com