बजट 2021: उठापटक के दौरान पेश हुआ देश का आम बजट

इस बार का बजट मिडिल क्लास की उम्मीदों पर खरा नहीं उतरा, देश की मिडिल क्लास जनता को कोरोना काल के बाद पेश हुए इस पहले बजट से ज्यादा उम्मीदें थी।
बजट 2021: उठापटक के दौरान पेश हुआ देश का आम बजट
उठापटक के दौरान पेश हुआ देश का आम बजटGoogle Image

बजट साल भर के खर्चे का लेखा जोखा है अमूमन हर मध्यम वर्गीय घर मे वेतन आने के बाद व्यय और आय के बीच मे संतुलन बनाया जाता ठीक वैसे ही भारतीय बजट भी भविष्य की तैयारी के लिए बनाया जाता रहा है। घरेलू और देश के बजट में सिर्फ एक अंतर रहता है कि सरकार बजट में आय के नए नवेले उपक्रमों की तलाश करती है, यही कारण है कि 2021 का बजट भी इन्हीं जद्दोजहद के बीच पेश किया गया। इस बजट ने सरकार की तरफ से जनता को लुभाने के प्रयास भी किया है। हम ऐसे मुद्दों पर चर्चा करेंगे जिसने लोगों को प्रभावित करने का काम किया है।

करदाता को राहत:

अगर नए बजट की बात करें तो सरकार ने इस नए बजट में 75 वर्ष से ज्यादा उम्रदराज करदाताओं को आयकर रिटर्न से छूट देने का प्रावधान रहा। चूँकि सरकार ने इस मामले में एक राहत देते हुए उन भारतीय नागरिकों को सभी सकल आय जो कि वेतन, पेंशन, ब्याज इत्यादि से प्राप्त होगी वह आयकर रिटर्न से मुक्त रहेगी हालाँकि कर लेने की प्रक्रिया बैंक द्वारा ही पूरी कर ली जाएगी। बैंक ही ऐसे नागरिकों की निर्गत धनराशि में कर काटने का काम करेंगे।

बजट में सरकारी कंपनियों की लगी सेल:

हालांकि इस बार के बजट को लेकर आर्थिक मामलों के जानकारों ने इसे बजट कम सरकारी निकायों के सेल कार्यक्रम ज्यादा बताया, खुद बजट के भाषण में खुद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने यह बात कही की उनका लक्ष्य विनिवेश के जरिये 1.75 लाख करोड़ रुपये जुटाने का है, इस लिहाज से अगर उनके दावे और बजट पर नजर डाले तो अगले वित्त वर्ष में बीपीसीएल, एयर इंडिया, कॉनकोर (कंटेनर) ,एससीआई और आई डी बी आई में दूसरों के विनिवेश का ठप्पा लगाया जा सकता है। यही नहीं सरकार ने अपने बजट में सरकार ने यह निर्णय लिया है कि वह निवेश के चक्कर मे बीपीसीएल जैसी कंपनी का मालिकाना हक भी खरीददार को उपलब्ध करा देंगे।

क्या महंगा क्या सस्ता?

नए बजट में जिन चीजों के सस्ते महंगे का निर्णय लिया गया है उनकी पूरी लिस्ट तैयार है:

सबसे पहले राहत ले लीजिए.....

सस्ता:

  1. चमड़ा

  2. ड्राई क्लीनिंग

  3. पेंट

  4. लोहा और लोहे के उत्पाद

  5. स्टील के बर्तन

  6. बीमा

  7. नायलॉन और इसके उत्पाद

  8. जूते (गैर चमड़ा)

  9. बिजली

  10. पॉलिएस्टर

  11. सोना-चांदी और इसके आभूषण

  12. कृषि में शामिल उपकरण

  13. ताम्र उपकरण और बर्तन

अब मन खट्टा कर लीजिए:

  1. महंगा समान

  2. मोबाइल और चार्जर

  3. सूती /कॉटन के कपड़े

  4. इलेक्ट्रॉनिक समान

  5. जूते (चमड़ा)

  6. जेम्स (रत्न)

  7. सौर ऊर्जा चलित इन्वर्टर

  8. काबुली (छोले चना)

  9. सेब (फल)

  10. डीएपी और यूरिया

  11. पेट्रोल और डीजल महंगा

  12. ऑटो पार्ट्स

  13. शराब (पीने वालों की जेब खाली होगी)

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com