उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
iran shot down ukraine plane
iran shot down ukraine plane|Uday Bulletin
टॉप न्यूज़

ईरान ने कबूला मानवीय गलती से मार गिराया था यूक्रेन का यात्री विमान, जांच में सहयोग करने की बात कही।

खुद के चिराग से घर को आग लगाने की बात तो आपने सुनी ही होगी, लेकिन ईरान ने ये साबित कर दिखाया, हड़बड़ी में ईरान ने यूक्रेन के यात्री विमान को दुश्मन समझ एयर डिफेंस सिस्टम से मार गिराया था। 

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

Summary

ईरान और अमेरिका की तनातनी के बीच एक दुखद खबर आई थी कि ईरान की राजधानी तेहरान स्थित इमाम कोहमेनी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर टेक ऑफ करते हुए यूक्रेन इंटरनेशनल के बोइंग 737 -800 एनजी यात्री विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने की खबर आई थी, हालाँकि इस मामले पर अमेरिका समेत अन्य देशों और स्वतंत्र उड्डयन एजेंसियों ने इस घटना को किसी बाह्य दुर्घटना से होना बताया था, लेकिन ईरान इस को लेकर शुरू से ही नकारने के मूड में था।लेकिन जब वैश्विक स्तर पर जांच एजेंसियों ने अपने ओपिनियन देने शुरू किए तो ईरान को इस का खुलासा करना पड़ा।

यात्री विमान को दुश्मन समझ मिसाइल से उडाया :

तो वाकया कुछ ये हुआ कि ईरान अमेरिका के साथ हुए विवाद के बाद जरूरत से ज्यादा सतर्कता बरत रहा था जिस कारण से ईरान के एयर डिफेंस देखने वाले सैन्यकर्मियों ने यात्री विमान को अमेरिका का फाइटर प्लेन समझ लिया और बिना किसी अतिरिक्त वार्निंग दिए हुए एयर डिफेंस सिस्टम को रक्षात्मक तरीके से लांच कर दिया, और इसका नतीजा यह हुआ कि यूक्रेन का यात्री विमान 176 लोगों सहित हवा में ही नष्ट हो गया। इस दुर्घटना में खुद ईरान के 82 यात्रियों समेत, 63 कनाडाई, 11 यूक्रेन, 10 स्वीडिश, 4 अफगानी, 3 जर्मनी और 3 यूके के यात्री काल कवलित हुए।

न्यूयॉर्क टाइम्स की युद्ध पत्रकार फरहाज का ट्वीट:

ईरान ने बस इतना कहा मानवीय भूल थी :

अब इसे दुश्मनी निभाने का खुमार कहें या तकनीक का इस्तेमाल न कर पाने की भूल, लेकिन इतने ज्यादा संख्या में निर्दोष यात्रियों के मारे जाने के बाद ईरान ने इसे मानवीय भूल करार दिया है। ईरान ने जांच में सहयोग करने की बात भी कही है हालांकि जांच को लेकर पूरे विश्व मे ईरान की स्थिति को लेकर संदेह व्यक्त किये जा रहे थे। लेकिन अब जबकि ईरान ने ही इसे स्वीकार लिया है तो आगे कोई गुंजाइश ही नहीं बचती।

पहला मामला नही है :

सुरक्षा के मद्देनजर यात्री विमानों या फिर अपने ही विमानों को निशाना लगाकर गिराना कोई नई बात नहीं है। लेकिन इतनी भारी संख्या में जनहानि अपने प्रकार का पहला उदाहरण है। हालांकि अपने विमान गिराने को लेकर भारतीय सेना पर भी आरोप लगे है, भारत द्वारा पाकिस्तान पर एयर स्ट्राइक करने के बाद जो माहौल बना था, उस माहौल के दौरान भारत ने भारतीय सेना के हेलीकॉप्टर को पाकिस्तान का विमान समझ कर मार गिराया था जिसमें पायलटों समेत अन्य क्रू की जान चली गयी थी।