पबजी मोबाइल ने बताई रिलांच करने की तैयारी, नए कलेवर में होगा लोकप्रिय खेल

वापस आ रहा है दुनिया का सबसे लोकप्रिय रॉयल बैटल गेम पबजी मोबाइल।
पबजी मोबाइल ने बताई रिलांच करने की तैयारी, नए कलेवर में होगा लोकप्रिय खेल
Pubg Mobile is coming backGoogle Image

पबजी मोबाइल का खेल प्रेमियों के ऊपर का खुमार किसी से छुपा नहीं है लेकिन बीते दिनों में सरकार के आदेशों के बाद इस लोकप्रिय खेल को भारत मे पूरी तरह प्रतिबंधित कर दिया था। लेकिन वक्त के साथ ही इस खेल को लेकर तमाम तरह की अटकलें लगाई जा रही थी। जिसके बाद अब खुद पबजी मोबाइल ने इस मामले में घोषणा की है। जिसके तहत उन्होंने भारत मे खुद को रिलांच करने की तैयारियों के बारे में जानकारी उपलब्ध कराई है।

केवल भारत के लोगो पर केंद्रित होगा गेम:

अगर डेवलपर्स की बात माने तो भारत मे पबजी मोबाइल नए कलेवर और केवल भारत पर केंद्रित रहेगा। दरअसल पबजी मोबाइल को भारत सरकार ने डाटा की सुरक्षा के मद्देनजर बैन कर दिया था। इस बैन में चीनी सरकार का विरोध भी जगजाहिर रूप से शामिल था। दरअसल उस वक्त तक इस खेल को भारत मे चीनी कंपनी टेनसेंट द्वारा पब्लिश कराया जा रहा था हालांकि इस विवाद के बाद पबजी के भारत छोड़ने से पहले ही टेनसेंट को इस करार से मुक्त करके अलग कर दिया गया। अब भारत मे पबजी मोबाइल खुद को "पबजी मोबाइल इंडिया " के नाम से रिलांच करेगा।

आपको यहां बताते चले कि गेम डेवलपर्स के द्वारा इस मामले में यह जानकारी उपलब्ध कराई गई है कि इस खेल के सभी डाटा सर्वर भारत मे ही बेहद सुरक्षित तरीके से रखे जाएंगे साथ ही सरकार के दिशा निर्देशों के आधार पर आडिट भी कराया जायेगा साथ ही इस खेल को भारतीय अंदाज में पेश किया जाएगा।

संभवतः यह उम्मीद है कि इस बार गेम के मैप्स को इंडिया के अनुसार रिडिजाइन करके पब्लिश किया जाए। इस प्रकार से उपयोगकर्ता इसे अपनेपन के साथ खेल सकेंगे।

पबजी मोबाइल के डिवेलपर्स ने जानकारी देते हुए बताया है कि भारत मे माइक्रोसॉफ्ट के डेटा सेंटर को स्थापित करने की योजना है जिसके तहत करीब 100 मिलियन यूएस डॉलर के निवेश का प्रावधान रखा गया है। जाहिर है इस कदम से भारत की आइटी इंड्रस्टी में बदलाव आना जरूरी है। हालांकि गेम के डेवलपर्स द्वारा इसके लांच डेट के बारे में कोई पुख्ता जानकारी साझा नहीं की गई है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com