उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
सुमित्रा महाजन
सुमित्रा महाजन |IANS
टॉप न्यूज़

SC/ST का हक नहीं छीन सकते ,सबको समान मौका मिलना चाहिए - सुमित्रा महाजन

लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने ST /SC एक्ट पर कहा की जो कानून वर्षों से लागू है उसे सुप्रीम कोर्ट एक डिम में कैसे हटा दे सकती है , यह गलत फैसला है।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

रांची: लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने रविवार को जानना चाहा कि शिक्षा और नौकरियों में आरक्षण को जारी रखने से क्या देश में समृद्धि आएगी। यहां एक तीन दिवसीय कार्यक्रम के अंतिम दिन महाजन ने कहा, "अंबेडकरजी का विचार दस साल तक आरक्षण को जारी रखकर सामाजिक सौहार्द लाना था। लेकिन, हमने यह किया कि हर दस साल पर आरक्षण को बढ़ा दिया। क्या आरक्षण से देश का कल्याण होगा?"

उन्होंने समाज और देश में सामाजिक सौहार्द के लिए बाबा साहब भीमराव अंबेडकर का अनुसरण करने के लिए कहा।

इस मौके पर झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने वामपंथी झुकाव वाले इतिहासकारों पर विदेश में देश की नकारात्मक छवि पेश करने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा, "हमारे लिए सभी धर्म समान हैं। आज देश और समाज को तोड़ने वाली ताकतें सक्रिय हैं। सरल स्वभाव आदिवासियों का धर्म परिवर्तन किया गया। लेकिन, हमारी सरकार ने धर्म परिवर्तन विरोधी कानून बनाया है।"

कार्यक्रम में सुमित्रा महाजन से ST /SC एक्ट पर पूछे जाने पर उन्होंने कहा की

यह एक्ट नए सिरे से पास नहीं किया गया है , कांग्रेस ने इस एक्ट को बनाया था लेकिन में कहूंगी एक वर्ग के साथ अन्याय हुआ तो उस वर्ग के परिमार्जन की भावना के साथ इस एक्ट को बनया गया था , सुप्रीम कोर्ट द्वारा इसमें किया गया बदलाव गलत है , इस नियम में क्या बदलाव होने चाहिए इसका निर्णय संसद में होगा , क्योंकी कानून में बनाये गए किसी भी प्रावधान को ऐसे नहीं बदला जा सकता है। इसे संसद में लाया जाये , सभी दलों के विचार के बाद हे इसमें बदलाव किये जा सकते हैं। 
सुमित्रा महाजन

महिला बिल पर अपनी राय देते हुए हुए लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कहा की

“महिलाओं को आरक्षण देना जरुरी है , उन्हें भी समान मौका मिलाना चाहिए , उन्हें पहले कभी बराबरी का मौका नहीं मिला आरक्षण बारीबारी का मौका देती है , लेकिन मेरा मानना है आरक्षण को खैरात न समझे , यह उनका हक है ,इसे सम्मान के साथ मिलना चाहिए।”

आपको बता दें लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन मध्य प्रदेश के इंदौर से सांसद हैं। यह बातें उन्होंने लोकमंथन 2018 के दौरान कहीं।