पबजी मोबाइल गेम खेलने से मना किया तो बेटे ने पिता का गला रेत दिया

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में एक युवक ने पिता द्वारा पबजी खेलने से मना करने पर चाकू से उनका गला रेत दिया।
पबजी मोबाइल गेम खेलने से मना किया तो बेटे ने पिता का गला रेत दिया
PUBG Case MeerutGoogle Image

ज्ञात हो कि चीनी गेमिंग ऐप पबजी भारत में केंद्र सरकार द्वारा प्रतिबंधित कर दिया गया है। लेकिन इसके बाबजूद लोग पाबजी खेलने के नए-नए जुगाड़ खोज ले रहे हैं। इस गेम का लत इतनी बुरी है कि लोग इसके लिए कुछ भी करने को तैयार हैं, गेम खेलने के लिए चाहे किसी का मर्डर ही क्यों न करना पड़ जाए लेकिन पबजी जरूर खेलेगें।

गेम के लिए पिता का गला रेत दिया:

ताज़ा घटना मेरठ जिले की है जहाँ एक बेटे ने गेम खेलने से मना करने पर अपने ही पिता का चाकू से गला रेत दिया, घटना में पिता गंभीर रूप से घायल हो गए, वहीं आरोपी आमिर ने भी पिता पर वार करने के बाद खुद को चाकू से घायल कर लिया। पिता और पुत्र दोनों को मेरठ मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है।

पबजी खेलने की लत ने परिवार बर्बाद कर दिया

पुलिस के अनुसार, यह घटना जिले के खरखौदा शहर के जमनानगर में गुरुवार को हुई थी, लेकिन पुलिस को घटना की सूचना तुरंत नहीं दी गई थी।

युवा ने अपने पिता इरफान पर इसलिए हमला किया, क्योंकि उन्होंने बेटे को लंबे समय तक गेम खेलने से मना किया था। अपने पिता की आलोचना से परेशान होकर आमिर ने चाकू उठाया और अपने पिता के गले पर कई बार वार किया। बाद में उसने खुद के गले पर भी वार किया।

सर्कल ऑफिसर देवेश सिंह ने कहा कि युवा के पिता ने जब उसे गेम नहीं खेलने के लिए कहा तो उसने अपने पिता का गला रेत दिया। युवा भी गंभीर हालत में है।

इंस्पेक्टर अरविंद मोहन शर्मा ने कहा कि युवक के परिवार ने बताया कि वह नशे का आदी था और उसका इलाज चल रहा था

बैसे यह पहला मामला नहीं जब पबजी खेलने के के कारण ऐसी घटना हुई है, इस तरह की घटनाएं पहले भी होती रही है। कभी गेम खेलने के दौरान खुद को मार लेना या गेम खलने के लिए दूसरों को नुकसना पहुंचा देना ये पहले भी हो चुका है। पबजी गेम हिंसा से भरा हुआ है और इस गेम को खेलने वाला व्यक्ति भी धीरे-धीरे हिंसक प्रवत्ति का हो जाता है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com