उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
 शिवपाल यादव एवं योगी आदित्यनाथ 
शिवपाल यादव एवं योगी आदित्यनाथ |source google
टॉप न्यूज़

शिवपाल यादव को आवास के बाद अब मिल सकती है जेड श्रेणी की सुरक्षा

उ. प्र.के पूर्व लोकनिर्माण मंत्री व समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के संस्थापक शिवपाल यादव और योगी सरकार के बीच बढ़ती नजदीकियों के बाद अब शिवपाल यादव को मुलायम सिंह के साथ मंच साझा करते देखा गया ...

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के पूर्व लोकनिर्माण मंत्री एवं समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के संस्थापक शिवपाल यादव और योगी सरकार के बीच नजदीकियां लगातार बढ़ रही हैं। सेक्युलर मोर्चा के सूत्रों के मुताबिक, सरकार से करीबी की वजह से ही उन्हें मायावती का बंगला आवंटित कर दिया गया। इस बीच सरकार के सूत्रों की माने तो जल्द ही शिवपाल को भी पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बराबर जेड श्रेणी की सुरक्षा दी जा सकती है।

गृह विभाग के सूत्रों के मुताबिक, सरकार शिवपाल को भी अखिलेश की तरह 'जेड प्लस' श्रेणी की सुरक्षा देने जा रही है। हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि कोई नहीं कर रहा है, लेकिन सत्ता के गलियारों में यह चर्चा जोरों पर है कि बहुत जल्द शिवपाल भी जेड सुरक्षा श्रेणी के तहत कमांडों से घिरे नजर आएंगे।

सूत्रों के मुताबिक, शिवपाल व मुख्यमंत्री के बीच हुई मुलाकात के बाद सरकार ने शिवपाल के करीबी रिश्तेदार आईएएस अधिकारी अजय यादव की प्रतिनिुयक्ति अवधि बढ़ाने को मंजूरी दे दी। तभी शिवपाल और सरकार के बीच नजदीकी बढ़ने की बात कही जाने लगी थी।

इसी बीच शुक्रवार को पूर्व मुख्यमंत्री मायावती को आवंटित लाल बहादुर मार्ग का बंगला नंबर छह शिवपाल को आवंटित कर दिया गया। शिवपाल को भी अखिलेश की तरह 'जेड प्लस' की सुरक्षा दिए जाने को लेकर गृह विभाग को संकेत दे दिए गए हैं, लेकिन गृह विभाग का कोई अधिकारी इस मुद्दे पर मुंह खोलने को तैयार नहीं है।

आपको बता दें, राम मनोहर लोहिया की पुण्यतिथि के अवसर पर शिवपाल यादव और मुलायम सिंह यादव को लखनऊ में एक साथ मंच साझा करते देखा गया था |जहां मुलायम सिंह ने युवाओं को राम मनोहर लोहिया के सिद्धांतों पर चलने की अपील की थी , उन्होंने अपने सम्बोधन में कहा आज के युवाओं को गलत के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए |वही शिवपाल यादव ने कहा कि राम मनोहर लोहिया की विरासत को आगे बढ़ाना हमारी जिम्मेदारी है , आगे मेरे बड़े भाई (मुलायम सिंह यादव) मेरे साथ हैं तो , हम साथ मिलकर देश में नई क्रांति का संचार शुरू कर सकते हैं। हमारी लड़ाई बीजेपी से है, और हमें आदरणीय लोहिया जी के सिंद्धान्तों को आदर्शों को जीवन में आगे ले कर बढ़ना है।