उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
लोकसभा सांसद शशि थरूर
लोकसभा सांसद शशि थरूर|IANS
टॉप न्यूज़

शशि थरूर का बयान, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शिवलिंग पर बैठे बिच्छू की तरह हैं’, भड़की भाजपा

कांग्रेस नेता व लोकसभा सांसद शशि थरूर ने रविवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक अनाम सदस्य को उद्धृत करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना शिवलिंग पर बैठे बिच्छू से की।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

बेंगलुरू | कांग्रेस नेता व लोकसभा सांसद शशि थरूर अपने विवादित बयानों की वजह से हमेसा चर्चा में बने रहते हैं। इन सबके बीच कांग्रेस नेता शशि थरूर अपनी किताब 'द पैराडॉक्सिकल प्राइम मिनिस्टर' (The Paradoxical Prime Minister) को लेकर छाये हुए हैं। इस संबंध में उन्होंने एक बार फिर विवादित बयान दे दिया है, अपनी किताब के बारे में बात करते हुए उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने रविवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक अनाम सदस्य को उद्धृत करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना शिवलिंग पर बैठे बिच्छू से की।

थरूर की इस टिप्पणी पर भारतीय जनता पार्टी ने सख्त एतराज जताया और इस मुद्दे पर विवाद बढ़ता देख सांसद ने स्पष्टीकरण दिया है।

संघ के एक सदस्य द्वारा 2012 में एक पत्रकार को कही गई बात को उद्धृत करते हुए बेंगलुरू साहत्यि उत्सव में रविवार को शशि थरूर ने कहा, "मोदी शिवलिंग पर बैठे बिच्छू की तरह हैं। जिसे आप हाथ से हटा नहीं सकते और चप्पल मार नहीं सकते।"

साहित्य उत्सव में हिस्सा लेते हुए थरूर अपनी नवीनतम पुस्तक के संदर्भ में एक रूपक का जिक्र कर रहे थे।

थरूर ने अपने संबोधन में कहा, "संघ के एक सदस्य ने द कारावान के पत्रकार विनोद जोस से एक अनोखा रूपक कही थी। उसने मोदी को कमतर करने के लिए अपनी अक्षमता पर निराशा जाहिर की थी।"

केंद्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने थरूर की टिप्पणी की निंदा की है और कहा कि कांग्रेस सांसद ने भगवान शिव का अनादर किया है।

प्रसाद ने एक ट्वीट में कहा, "एक हत्याकांड में आरोपी थरूर ने भगवान शिव का अनादर करने की कोशिश की है। खुद को शिवभक्त बताने वाले राहुल गांधी से मैं जवाब चाहता हूं। राहुल गांधी को सभी हिंदू से माफी मांगना चाहिए।"

प्रसाद की बातों का जवाब देते हुए थरूर ने कहा कि संघ के एक सदस्य को उद्धृत करते हुए मोदी के बारे में मेरी टिप्पणी पिछले छह साल से ही सार्वजनिक है।

थरूर ने ट्वीट में कहा, "यह टिप्पणी पिछले छह साल से सार्वजनिक है। प्रसाद छह साल पुरानी टिप्पणी को मुद्दा बना रहे हैं।"