meerut love jihad
meerut love jihad|twitter
टॉप न्यूज़

लव जेहाद: इश्क में पड़कर कत्ल की गई प्रिया, शमशाद ने घर मे ही दफनाया

मुस्लिम युवक शमशाद ने हिन्दू बनकर शादीशुदा महिला को अपने जाल में फंंसाया, फिर मां-बेटी की हत्या कर दोनों के शवों को घर में दफनाया

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

लोगों के अनुसार यह लव जेहाद का ताजा उदाहरण है, एक जालसाज मुस्लिम युवक द्वारा नाम बदल कर हिन्दू लड़की से शादी की और बाद में बेटी समेत पत्नी की हत्या करके खुद के मकान में गाड़ दिया और हत्या का आरोप दूसरे पर मढ़ दिया हालांकि पुलिस ने मामले का खुलासा कर दिया है।

पहले जाल में फंसाया फिर किया कत्ल:

उत्तर प्रदेश का गाजियाबाद शहर जहाँ पर रहने वाली लड़की प्रिया की शादी करीब 12 साल पहले एक युवक से हुई, लेकिन शादी ज्यादा दिन चली नहीं और अनबन के चलते तलाक हो गया। लेकिन इसी दौरान एक बेटी पैदा हुई, तलाक के बाद बेटी और माँ एक साथ रहकर जीने लगे। इसी दौरान सोशल मीडिया पर करीब 5 साल पहले अमित गुर्जर नाम के व्यक्ति से दोस्ती हुई। वादे और दावे हुए इश्क ने पींगे खाई और यह निश्चित हुआ कि हम बाकी का जीवन साथ-साथ बिताएंगे। लेकिन फिर अचानक मेरठ शहर से प्रिया और उसकी बच्ची अचानक गायब हो गयी शमशाद ने गुमशुदगी और हत्या के आरोप दूसरों पर लगाये। पुलिस तहकीकात करती रही लेकिन असल राज तो कहीं और ही दफन था। दरअसल अमित गुर्जर उर्फ शमशाद ने ही दोनो माँ बेटी को कत्ल करके मकान के अंदर ही गड्ढा खोद कर दफन कर दिया था।

चंचल बनी सहारा:

इस मामले में गाजियाबाद की चंचल ने अहम रोल निभाया। दरअसल प्रिया इससे पहले चंचल के मकान में किराए से रहती थी और ब्यूटीपार्लर चलाती थी। शमशाद की असलियत के बारे में प्रिया ने चंचल को लगभग सब कुछ बता दिया था। चंचल ने पुलिस को इस बारे में सारी जानकारी दी लेकिन पुलिस द्वारा इस मामले में कोई ज्यादा सतर्कता नहीं बरती गई और चंचल की जानकारी को तवज्जो नहीं दी गयी लेकिन जब चंचल ने इस मामले को हिन्दू युवा वाहिनी नामक संगठन के जरिये उठाया तो बवाल होना शुरू हुआ और लोग इसको लेकर आक्रोशित होने लगे। पुलिस ने मजबूरी में आकर जांच करना शुरू किया।

मामले में महत्वपूर्ण भूमिका चंचल नाम की लड़की ने निभाई वह मृतका की सहेली थी:

बिहारी है शमशाद:

यहाँ आपको बताते चले कि शमशाद मूल रूप से बिहारी है और 10 साल पहले बिहार से मेरठ आया था। यहाँ पर उसने अपना मकान भी बना लिया है, स्थानीय पुलिस ने शमशाद के पुराने रिकार्ड खंगालने शुरू कर दिए है और पुलिस यह जानने की कोशिश कर रही है कि क्या शमशाद इससे पहले भी कोई ऐसा कांड कर चुका है क्या। प्रिया और उसकी बेटी का कंकाल शमशाद के घर से बरामद किया जा चुका है। मामले को लेकर पूरे क्षेत्र में आक्रोश फैला हुआ है।

पुलिस ने खोजबीन करने के लिए शमशाद उर्फ अमित गुर्जर का मकान जेसीबी से ढहा दिया।

क्या हुआ हत्या के दिन:

हत्या के आरोपी शमशाद ने कुबूल किया कि उसने हत्या वाले दिन हॉलीवुड हॉरर और सस्पेंस थ्रिलर फिल्में देखी जिसके बाद उसमें यह काम करने की हिम्मत आयी। शमशाद ने बताया कि 29 मार्च की रात उसने हॉरर फिल्म "द नन" और द होलो फ़िल्म देखी और बेटी के सामने ही पत्नी प्रिया की गला दबाकर हत्या की। हालांकि बेटी ने अपनी माँ को बचाने का प्रयास भी किया लेकिन आखिर में उसे भी (कशिश) को गला दबाकर मार डाला। साथ ही केमिकल डाल कर शवों को जलाने और विकृत करने की कोशिश की। उसके बाद दोनो के शवों को बोरे में भरकर रखा और रात भर मेहनत करने के बाद मकान में ही बैडरूम में गड्ढा खोदा ताकि उन्हें वही दफ्न किया जा सके। शमशाद ने गड्ढे में लाशें डालकर गड्ढे को भर दिया और बाद में वहां प्लास्टर करा दिया। किसी को शक न हो इसके लिए शमशाद ने उस जगह पर सोफा रखवा दिया। शमशाद को यह आइडिया अजय देवगन की फ़िल्म दृश्यम से आया था। पहले शमशाद ने लाश को नहर में फेकने का प्लान बनाया था लेकिन लॉक डाउन की वजह से यह संभव नहीं हो सका।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com