कोर्ट में फेल हुआ सफूरा का आखिरी दांव, अदालत ने जमानत नहीं दी

सफूरा जरगर अब किसी परिचय की मोहताज नहीं है, दिल्ली दंगो को लेकर तिहाड़ जेल में बंद हैं। पिछले दिन अदालत में गर्भवती होना बताकर जमानत की मांग मानवीय आधार पर की गई लेकिन कोर्ट ने सिरे से नकार दिया।
कोर्ट में फेल हुआ सफूरा का आखिरी दांव, अदालत ने जमानत नहीं दी
Safoora Zargar Bail RejectedUday Bulletin

कोर्ट ने कहा गर्भवती होना गुनाह से माफी नहीं:

दरअसल दिल्ली की एक अदालत में उत्तरी पूर्वी दिल्ली में हुए साम्प्रदायिक दंगों को लेकर सुनवाई चल रही है। जिसमे UAPA कानून के तहत गिरिफ्तार की गई जामिया मिल्लिया इस्लामिया की छात्रा सफूरा जरगर की जमानत के लिए उनके वकील ने तमाम दलीलें पेश की लेकिन कोर्ट द्वारा उनकी दलीलों को सिरे से यह कहकर खारिज कर दिया कि "When you play with embers, you can't blame the wind for the fire to spark"

वाक्य का सार यह है कि "जब आप अंगारों के साथ खेलने लगते है तो चिंगारी से भड़की हुई आग के लिए हवाओं को दोषी नही बना सकते"

द लीफलेट ने इस संबंध में बेल पेपर को अपने ट्विटर से ट्वीट किया है।

इसपर भी सफूरा के वकील ने मानवता के आधार ओर जमानत मांगी, वकील के अनुसार शफूरा करीब 21 हफ़्तों की गर्भवती है और साथ ही वह एक रेयर बीमारी "पोली सिस्टिक ओवेरियन डिसऑर्डर" से भी पीड़ित है। इस पर न्यायाधीश ने साफ शब्दों में कहा कि शफूरा के दिल्ली दंगो में पाए जाने के पुख्ता सबूत है उन्हें दरकिनार करके जमानत नहीं दी जा सकती। वहीँ कोर्ट में इस बात को लेकर चर्चाये होती रही कि क्या गर्भवती होने से अपराध करने का लाइसेंस मिल जाता है या सजा कम हो जाती है ?

कोर्ट ने कहा सीधे तौर पर तो नहीं लेकिन शफूरा शाजिस में शामिल:

सफूरा जरगर के केस को लेकर अदालत ने बेहद साफ और नपे तुले शब्दों मे जानकारी देकर बेल को रिजेक्ट कर दिया अतरिक्त सत्र न्यायाधीश धर्मेंद्र राणा ने जमानत आवेदन पर जवाब देते हुए कहा कि अभी इस केस की टेक्निकल गहराइयों तक नहीं पहुंचा जा सका है फिर भी फौरी तौर पर मिले हुए सुबूतों को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। शफूरा भले ही सीधे तौर पर इस मामले से नहीं जुड़ी रही हो लेकिन साजिस में होने से इनकार नहीं किया जा सकता। यह कहकर अदालत ने सफूरा की जमानत आवेदन को वापस कर दिया।

गर्भवती होने पर मचा था बवाल:

पिछले कुछ दिनों में सफूरा के गर्भवती होने को लेकर बवाल उठ खड़ा हुआ था। तिहाड़ जेल में बंद शफूरा की तबियत खराब होने पर जाँच कराई गयी जिसमे वह गर्भवती पाई गई थी। इस मामले पर शोसल मीडिया में सफूरा के अविवाहित होने को लेकर गर्भ से जुड़े हुए सवाल खड़े किए गए थे। लोगों के अनुसार सफूरा का पति कौन है? हालांकि इस मामले पर शफूरा के पति ने मीडिया के सामने आने को मना किया था। इसपर शफूरा के इस गर्भ को अवैध करार दिया गया था।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com