अशोक गहलोत, राहुल गांधी और सचिन पायलट
अशोक गहलोत, राहुल गांधी और सचिन पायलट|Google
टॉप न्यूज़

Rajasthan Election Result 2018: राहुल गांधी के सर सजा राजस्थान जीत का ताज, कांग्रेस सत्ता में काबिज

ताजा सूचना तक राजस्थान में कांग्रेस उम्मीदवार 197 निर्वाचन क्षेत्रों में से 102 में अपने प्रतिद्वंद्वियों से आगे चल रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) 72 सीटों पर आगे है।

Uday Bulletin

Uday Bulletin

जयपुर | राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंगलवार को विश्वास व्यक्त किया कि राज्य में कांग्रेस सत्ता में काबिज होगी और कहा कि उनकी पार्टी राज्य में निर्दलियों के साथ सहयोग करने के लिए तैयार है। यह स्थिति होने पर कि 200 सदस्यीय विधानसभा के लिए बहुमत में कांग्रेस को एक या दो सीटें कम पड़ सकती हैं, गहलोत ने मीडिया से कहा, "कांग्रेस निर्दलीय उम्मीदवारों के साथ सरकार बनाने के लिए तैयार है।"

ताजा सूचना तक कांग्रेस उम्मीदवार 197 निर्वाचन क्षेत्रों में से 95 में अपने प्रतिद्वंद्वियों से आगे चल रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) 78 सीटों पर आगे है।

इसका मतलब यह है कि दो दर्जन सीटें छोटी पार्टियों और निर्दलीयों को मिल सकती है, जिसने उन्हें सरकार लगठन में एक महत्वपूर्ण कारक बना दिया है।

भाजपा ने पांच साल पहले निर्णायक बहुमत के साथ राजस्थान में सत्ता संभाली था। गहलोत ने पार्टी के पुनरुत्थान के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की प्रशंसा की।

उन्होंने कहा, "गुजरात चुनावों के बाद से, राहुल गांधी ने मोदीजी (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) और अमित शाह (भाजपा अध्यक्ष) को घेर लिया है। तब से, वे दोनों चाहे कर्नाटक हो या राजस्थान हो, प्रभाव बनाने में सक्षम नहीं हुए हैं।"

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा, "कांग्रेस बहुमत वाली सरकार का गठन करेगी, लेकिन हमें अंतिम परिणाम आने तक इंतजार करना चाहिए।"

राजस्थान कांग्रेस के प्रमुख सचिन पायलट ने कहा, "कांग्रेस कार्यकर्ताओं व लोगों का संघर्ष नतीजों में दिखाई दे रहा है। हमने पिछली बार 21 सीटें जीती थीं। लोगों ने जिस तरह की मुश्किलों का सामना किया था तो वे नाखुश थे। वे केंद्र व राज्य सरकार से नाराज थे।"

उन्होंने कहा, "हमने जो रोडमैप प्रस्तुत किया उसे सराहा गया और राहुल गांधी ने उत्साहवर्धक प्रचार किया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने एकजुट होकर काम किया। मैं लोगों के आशीर्वाद के लिए उनका आभारी हूं।"

सचिन पायलट ने कहा कि उनकी पार्टी मध्य प्रदेश व छत्तीसगढ़ में भी सरकार बनाएगी। नए मुख्यमंत्री के संदर्भ में सचिन पायलट ने कहा, "कांग्रेस आलाकमान व विधायक सामूहिक रूप से फैसला करेंगे।"

इस बीच, मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे मंगलवार सुबह बांसवाड़ा जिले के त्रिपुरासुंदरी मंदिर गईं। वह जयपुर में भाजपा कार्यालय लौट आईं हैं, लेकिन उन्होंने मीडिया से बात नहीं की। उन्होंने भाजपा कार्यालय में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात की, जहां सन्नाटा सा पसरा हुआ था।

आईएएनएस

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com