Pulwama Part 2
Pulwama Part 2|Uday Bulletin & ANI
टॉप न्यूज़

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में बड़ा आतंकी हमला नाकाम। साजिश के पीछे पाकिस्तान का हाथ

आतंकी पुलवामा जैसी घटना दोहराना चाहते थे, सुरक्षावलों की चौकसी ने आतंकियों के मंसूबों (pulwama part 2) को नाकाम किया।

Abhishek

Abhishek

पुलवामा पार्ट-2 को सुरक्षावलों ने नाकाम कर आतंकियों के मंसूबों पर पानी फेर दिया। घाटी में आतंकियों के खिलाफ चलाये जा रहे ऑपरेशन में सेना ने पिछले कुछ दिनों में आतंक का बड़े-बड़े आकाओं को मार गिराया है। जिससे पाकिस्तान सहित तमाम आतंकी संगठन बौखलाए हुए हैं और इसका बदला लेने के लिए सुरक्षावलों को निशाना बनाने की साजिश रच रहे रहे थे। आज जम्मू कश्मीर में पुलवामा जैसी त्रासदी को को नाकाम कर दिया। सुरक्षा बलों ने एक आईईडी (improvised explosive devices) से लदी कार को जब्त किया जो सुरक्षावलों को निशाना बनाने के लिए तैयार की गयी थी।

दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में ही विस्फोटक से भरी कार को सुरक्षा बलों के काफिले या रक्षा प्रतिष्ठान को निशाना बनाने के लिए रणनीतिक स्थान पर रखा गया था।

कार के भीतर एक नीले ड्रम में विस्फोटक को छिपा कर रखा गया था। बॉम्ब डिस्पोजल स्क्वायड आज गुरुवार सुबह मौके पर पहुंची और आस-पास से लोगों को दूर जाने को कहा। इसके बाद बम निरोधक दस्ते ने फिर विस्फोटक को डिफ्यूज करने के बजाय वाहन को उड़ा दिया।

जम्मू कश्मीर पुलिस ने ट्वीट कर कहा, “खुफिया जानकारी के आधार पर पुलवामा पुलिस, सीआरपीएफ और सेना ने समय पर कार्रवाई करते हुए आईईडी विस्फोट से होने वाली एक बड़ी त्रासदी को टाल दिया।”

खबर के अनुसार, सुरक्षा बलों ने बुधवार देर रात दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले के राजपोरा में एक कार को इंटरसेप्ट किया। पुलिस के पास एक अकेली कार के बारे में पुलवामा के शादिपुरा, राजपुरा रोड पर ट्रैक किया गया एक विशिष्ट इनपुट था ।

वाहन चालक को हिजबुल मुजाहिदीन का आतंकवादी बताया जा रहा है, लेकिन वह अंधेरे का फायदा उठाते हुए गोलाबारी के बाद भागने में सफल रहा।

ज्ञात हो कि पिछले वर्ष 2019 के फरवरी महीने में इसी तरह कार में विस्फोटक रखकर एक आतंकवादी ने आत्मघाती हमले को अंजाम दिया था। इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे।

पुलिस ने बिस्फोटक से लदी कार को कंट्रोल्ड ब्लास्ट से उड़ा दिया। हमले की जाँच (pulwama part 2) NIA करेगी।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com