crime in uttar pradesh
crime in uttar pradesh|Google Image
टॉप न्यूज़

प्रदेश में बढ़ते अपराध के आरोपों पर यूपी पुलिस को सफाई देनी पड़ गयी

उत्तर प्रदेश सरकार बार-बार अपराध की घटनाओं पर पर्दा डालती है मगर अपराध चिंघाड़ते हुए प्रदेश की सड़कों पर तांडव कर रहा है।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

उत्तर प्रदेश सरकार पर पिछले कुछ दिनों से ला एंड ऑर्डर को न संभाल पाने के आरोप लगते चले आ रहे हैं। जिस पर केंद्र और प्रदेश के विपक्ष से लगातार दबाव डाला जा रहा है, इसी क्रम में जब कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने योगी सरकार पर निशाना साधा तो सरकार की तरफ से यूपी पुलिस ने जवाब दिया।

प्रियंका ने दो दिन की घटनाओं का उल्लेख किया:

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने रविवार और सोमवार को हुई आपराधिक घटनाओं को दर्शाते हुए सरकार पर आरोप लगाए कि सरकार कानून व्यवस्था के मुद्दे पर पूरी तरह से फेल हो चुकी है। दरअसल बीता रविवार और सोमवार अपराध के मामले में काफी आगे रहा। बीते दो दिनों में मीडिया में फैली खबरों के अंतर्गत गोरखपुर में माँ-बेटे के कत्ल से लेकर बलिया में सहारा समय के पत्रकार की गोली मारकर हत्या करने को लेकर सड़क से सरकार तक हो हल्ला मचा रहा। लोगों ने विपक्ष के साथ मिलकर सरकार द्वारा अपराध पर कंट्रोल न कर पाने के आरोप लगाए।

यूपी पुलिस का बचाव, हम सबसे ज्यादा संख्या वाले राज्य:

इस मामले पर उत्तर प्रदेश पुलिस ने अपना और सरकार का बचाव करते हुए लिखा कि यह सत्य है कि ये घटनाएं हुई है लेकिन इन घटनाओं के पीछे होने वाले कारण, कारक और अपराध के बाद की गयी कार्यवाही को भी जानना आवश्यक है। यूपी पुलिस ने यह भी बताया कि आपको उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर तंज करने से पहले यह पता होना चाहिए कि उत्तर प्रदेश में देश की सबसे बड़ी जनसंख्या निवास करती है। वर्तमान में पर उत्तर प्रदेश में करीब 24 करोड़ से ज्यादा लोग निवास करते है

क्या यह कारण काफी है बचाव के लिए?

जी नहीं और जनसंख्या का कारण तो बिल्कुल नहीं, सरकारी लचर व्यवस्था, सरकार की सदियों से अपराधियों को संरक्षण देने वाली नीति उत्तर प्रदेश के नस में बैठ चुकी है। फिर चाहे विकास दुबे कानपुर वाले हो या कोई और प्रदेश में अपराधियों ने सिस्टम में सेंध लगाकर एक मजबूत पकड़ बना रखी है जिसे एकदम से तोड़ना लगभग असंभव है। हालाँकि पिछले कुछ वर्षों में योगी सरकार ने अपराधियों के खिलाफ बड़े अभियान चलाए है लेकिन फिर भी प्रदेश में भारी संख्या में सफेदपोश अपराधियों को अप्रत्यक्ष रूप से सरकार का समर्थन मिल रहा है जिसपर सरकार को नजर तीखी रखनी पड़ेगी।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com