उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी,”आयुष्मान भारत योजना” का प्रमोचन करते हुए। 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी,”आयुष्मान भारत योजना” का प्रमोचन करते हुए। |Image Source- Hindustan Times
टॉप न्यूज़

“आयुष्मान भारत” योजना, स्वास्थ्य की बेहतरी के लिए एक और कदम  

प्रधानमंत्री “नरेंद्र मोदी” ने किया दुनिया का सबसे बड़ा स्वास्थ्य निधि का शुभारंभ

Sneha Sinha

Sneha Sinha

राँची: 23 सितम्बर 2018 को आधिकारिक तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने "आयुष्मान भारत योजना" का शुभारंभ किया। झारखण्ड में स्वास्थ्य प्रणाली की दयनीय व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए, इस योजना का शुभारंभ राँची में करने का फैसला लिया गया। यह दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना है। यह योजना दिल्ली, केरल, ओडिशा, पंजाब और तेलंगना के अलावा 29 राज्यों में लागू है। इस योजना को मोदी ने "गेम चेंजर" कहा है और बताया की इससे अनेकों- अनेक लोगों को लाभ मिलेगा तथा यह हमारे देश की स्वास्थ्य प्रणाली की व्यवस्था में एक नयी सुबह लेकर आएगा। इस योजना को देखकर सभी देश प्रेरित होंगे और हमारा देश उनके लिए एक आदर्श बनेगा।

"आयुष्मान भारत योजना" की जानकारी :

"आयुष्मान भारत योजना" को मोदीकेयर भी कहा जा रहा है। इस योजना का उद्देश्य स्वस्थ भारत का निर्माण करना है। इस योजना का पहला लक्ष्य पूरे भारत में प्राथमिक स्वास्थ्य सेवा प्रदान करना और दूसरा लक्ष्य निम्नवर्गीय लोगों को वह सारी सेवा प्राप्त करवाना है जो उन्हें नहीं मिल पाती हैं।

योजना को दो भागों में बाँटा गया है:

  • राष्ट्रीय स्वास्थ्य संरक्षण योजना - जनता को मुफ्त इलाज देना
  • स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र - जनता को प्राथमिक देखभाल मुफ्त में देना

योजना के तहत आपको ये सुविद्याएँ प्राप्त होंगी :

  • सारी सार्वजनिक / निजी हेल्थकेयर पर मुफ्त इलाज प्राप्त कर सकेंगे
  • अस्पताल में माध्यमिक और तृतीयक उपचार और देखभाल प्राप्त कर सकते है
  • हर परिवार 5 लाख तक का इलाज करवा पायेगा
  • परिवार के आकार या परिवार के सदस्यों की उम्र पर कोई रोक नहीं है
  • योजना के नामांकन के पहले दिन आपको सारी बीमारियों का विवरण देना होगा
  • योजना से पंजीकृत पूरे भारत के हर एक अस्पताल और संस्था में चाहे वो कही भी हो, आप इलाज करवा सकते हैं

योजना के पंजीकरण की जानकारी ऐसे पायें :

आयुष्मान भारत की वेबसाइट https://mera.pmjay.gov.in पर जायें और वहाँ अपना मोबाइल नंबर डालें, उसके बाद एक ओटीपी आएगा और उस ओटीपी को डालने के बाद आपको पता चल जायेगा की आपका नाम पंजीकृत है या नहीं। कौन सी बीमारी का इलाज होता है, इसका पता आप 14555 पर फ़ोन लगाकर कर सकते है। प्रधानमंत्री "नरेंद्र मोदी" के द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार आपको 1,300 से अधिक बिमारियों के इलाज की सुविधाएँ 10,000 अस्पतालों में प्राप्त हो सकती हैं.

लोगों को मिलेंगे रोजगार के अवसर :

इस दौरान प्रधानमंत्री "नरेंद्र मोदी" ने 1 लाख रोजगार के अवसर की घोषणा की और कहा की इस योजना के रोजगार अवसर में ऐसे लोगों की ज़रूरत है जो लोगों और अस्पतालों के बीच की सारी बातों का ध्यान रखे तथा सभी चीजों का प्रबंध करने में सहायक बने। इसके तहत एक रिसर्च टीम बनेगी जो सहायता डेस्क चलाएगी और सारी पंजीकरण और सारी इलाजों का विवरण रखेगी तथा उसका जाँच भी करेगी।

आयुष्मान भारत योजना में नए कर्मचारियों को 15,000 रूपये वेतन दिया जायेगा वही दूसरी ओर अनुभवी कर्मचारियों को 50,000 से 90,000 तक वेतन मिल सकता है।

आवेदन के लिए योग्यताएँ:

  • पोस्टग्रेडुएटेड विद्यार्थी कर सकते है आवेदन
  • हर क्षेत्र के एक्सपर्ट कर सकते है आवेदन
  • बी- टेक वाले कर सकते है आवेदन
  • जर्नलिज्म के स्टूडेंट्स कर सकते है आवेदन
  • पब्लिक हेल्थ सिस्टम के अनुभवी कर सकते है आवेदन
  • उम्र की सीमा 32 वर्ष है