PM Modi Address the Nation
PM Modi Address the Nation|Uday Bulletin
टॉप न्यूज़

कोरोना संकट और चीन के साथ विवाद के बीच पीएम मोदी आज शाम 4 बजे देश को संबोधित करेंगे।

चीन के साथ चल रहे सीमा विवाद के बीच पीएम मोदी का देश के नाम संबोधन

Abhishek

Abhishek

देश इस समय कोरोना के साथ-साथ चीन के साथ भी लड़ाई लड़ रहा है। इसी बीच पीएम मोदी एक बार फिर देश को संबोधित करने वाले हैं (PM Modi Address the Nation)। पीएम आज शाम (मंगलवार) 4 बजे देश को संबोधित करेंगे। पीएमओ के ट्विटर हैंडल ने सोमवार को ट्वीट कर यह जानकारी दी।

कोरोना आपदा के दौर में पीएम मोदी के अब तक के संबोधनः

  • 19 मार्च – पहले संबोधन में जनता कर्फ्यू का ऐलान किया।

  • 24 मार्च – दूसरे संबोधन में 21 दिन का लॉकडाउन किया।

  • 03 अप्रैल – तीसरे संबोधन में राष्ट्र से दीप जलाने की अपील की।

  • 14 अप्रैल – चौथे संबोधन में पूरे देश में लॉकडाउन-2 की घोषणा।

  • 12 मई – 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज का ऐलान और लॉकडाउन 4.0 का ऐलान भी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि सैकड़ों आक्रांताओं ने देश पर हमला किया, लेकिन भारत इससे भव्य होकर सामने आया। वहीं, चीन का नाम लिए बगैर पीएम ने कहा था कि लद्दाख में भारत की तरफ आंख उठाकर देखने वालों को करारा जवाब मिला है।

रविवार को ‘मन की बात’ में पीएम मोदी ने कहा था कि कोरोना के संकट काल में देश लॉकडाउन से बाहर निकल आया है। अब देश अनलॉक के दौर में हैं। अनलॉक के इस वक्त में दो बातों पर ध्यान देने की जरूरत है कोरोना को हराना और अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाना एवं ताकत देना है।

ज्ञात हो कि पूरी दुनिया के कई देशों की तरह इस टाइम भारत भी कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित है। दुनिया के देशों में कोरोना वायरस के मामले में भारत जहां चौथा देश हो गया है तो वहीं यहां कोरोना संक्रमित मरीजों के आंकड़े 5 लाख 48 हजार 318 हो गए है। इनमें से 16,475 लोगों की इस वायरस के कारण मौत हो चुकी है।

वहीँ दूसरी तरफ चीन के साथ सीमा पर तनाव अभी भी बरकरार है, जिसे लेकर देश भर के अलग-अलग हिस्से में चीनी सामानों का बहिष्कार किया जा रहा है। इस बीच भारत सरकार ने 59 चीनी ऐप पर प्रतिबन्ध लगा दिया है। इन चीनी ऐपों पर प्रतिबंध की वजह निजता की सुरक्षा का मामला माना जा रहा है।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com