उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
आखिरी सार्क शिखर सम्मेलन 2014 में काठमांडू में आयोजित किया गया था
आखिरी सार्क शिखर सम्मेलन 2014 में काठमांडू में आयोजित किया गया था|Google
टॉप न्यूज़

प्रधानमंत्री मोदी को मिला 20वें सार्क सम्मेलन का न्योता, क्या पाकिस्तान के साथ सुधर सकते है भारत के रिश्तें ?

पाकिस्तान ने करतारपुर कॉरिडोर के जरिए भारत के साथ अपने रिश्तों में सुधार की शुरुवात की है।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

नई दिल्ली: पाकिस्तान ने करतारपुर कॉरिडोर के जरिए भारत के साथ अपने रिश्तों में सुधार की शुरुवात की है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सार्क सम्मेलन में बुलाने का फैसला किया है। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय की तरफ से ये जानकारी दी गई है कि इस साल प्रस्तावित सार्क सम्मेलन में शामिल होने के लिए पीएम मोदी को न्योता भेजा जाएगा।

20वें दक्ष‍िण एशि‍याई क्षेत्रीय सहयोग संघ (SAARC) सम्मेलन का आयोजन पाकिस्तान में किया जा रहा है। हालांकि, इससे पहले 2016 में 19वें सार्क शिखर सम्मेलन का आयोजन भी पाकिस्तान में किया जाना था, लेकिन पाकिस्तान के साथ संबंध अच्छे नहीं होने के कारण भारत समेत बांग्लादेश, भूटान और अफगानिस्तान ने इस समिट में हिस्सा लेने से इनकार कर दिया था, जिसके बाद ये सम्मेलन रद्द करना पड़ा था। वहीं बांग्लादेश घरेलू परिस्थितियों का हवाला देते हुए इस सम्मेलन में शामिल नहीं हुआ था।

भारत के विदेश सचिव विजय गोखले ने इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि " ब्रिक्स प्रमुख देशों के बीच बैठक की पुष्टि हो हुई है। प्रधानमंत्री मोदी ,चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से भी मिलेंगे।

पाकिस्तान में अब सत्ता परिवर्तन हो चुका है नवाज शरीफ की जगह इमरान खान ने ले ली है और उनकी नेतृत्व में नई सरकार इस बार सभी सदस्य देशों को मनाने की कोशिश करती नजर आ रही है, क्योंकि उसे डर है कि सितंबर, 2016 की तरह इस बार भी कहीं सदस्य देश इसमें शिरकत की योजना कैंसिल न कर दें और सम्मेलन रद्द न करना पड़े।

बता दें कि, पिछले दो साल से पाकिस्तान सार्क सम्मेलन का आयोजन नहीं कर पा रहा है। इसकी वजह से उस पर इस बात का काफी दबाव है कि सम्मेलन को सफल तरीक से आयोजित किया जाए।

सार्क में एशिया के आठ देशों का समूह है। जिसमें भारत सबसे शक्तिशाली देश है। फिलहाल ये आठ देश सदस्य हैं- अफगानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान, भारत, नेपाल, मालदीव, पाकिस्तान और श्रीलंका। आखिरी सार्क शिखर सम्मेलन 2014 में काठमांडू में आयोजित किया गया था।