उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Banda Police
Banda Police|Uday Bulletin
टॉप न्यूज़

टूटा जुमे की नमाज का फितूर, बाँदा में हालात सोच से भी परे

एक ओर जहां पूरा देश एनआरसी और सीएए के विरोध में हाई एलर्ट पर है और जगह-जगह प्रोटेस्ट होते रहे, वहीँ उत्तर प्रदेश का बाँदा अपनी अलग ही मिशाल पेश कर गया । 

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

वो कहते है न की जहाँ चाह वहाँ राह, इसका बेहतर नमूना बाँदा में नजर आया जहाँ एक ओर प्रदेश में पुलिस को दंगे कंट्रोल करने के लिए 400 राउंड फायर करने पड़े। वही बाँदा में इसके उलट माहौल बेहद अलग रहा। भले ही पूरे उत्तर प्रदेश में सीआरपीसी की धारा 144 लगाई हुई है लेकिन बाँदा में इसका कोई खास असर नजर नही आया धारा 144 के लगने के बाद भी न तो बाजारों में कही कोई बंदिश नजर आयी न ही कही खड़े हुए लोगो से पूंछतांछ हुई, बल्कि हर जगह सुरक्षा में मुस्तैद पुलिसकर्मी लोगो को किसी समस्या में होने पर मदद करते हुए नजर आए।

पुलिसकर्मियों को फूल देकर सम्मानित किया गया :

अब इसे अपने काम का परफेक्शन ही समझा जाये कि जब उत्तर प्रदेश भर में जुमे की नमाज के बाद किसी वबाल की आशंका थी तभी बाँदा पुलिस कर्मियों को मुस्लिमों द्वारा गुलाब के फूल भेंट किये गए और पुलिस के काम को सराहा गया।

गौरतलब हो कि बाँदा पुलिस ने अपनी सुरक्षा व्यवस्था में कोई कसर नही छोड़ी थी। चुनिंदा अपराधियों पर पुलिस ने अपनी आँखे लगा रखी थी। सुरक्षा के मद्देनजर सोशल मीडिया मोनिटरिंग टीम अपना काम बराबर कर रही थी और जुमे के दिन पुलिस टीमें ड्रोन कैमरों द्वारा शहर की निगरानी में जुटी रही!

लंबी मेहनत का नतीजा, कोई दंगा नही :

लोगों की माने तो समाज विरोधी तत्वों ने इस मामले को लेकर आग लगाने में कोई कसर नही छोड़ी। बल्कि कई लोगो को उकसाने का काम किया लेकिन पुलिस ने इस मामले को लेकर पहले से ही कमर कस रखी थी। पुलिस ने अपने पूर्ववर्ती प्रयासों जैसे "बाँदा पुलिस गुड मॉर्निंग" पुलिस आपकी सहायता में जैसे कार्यो से लोगो के ह्रदय में जगह बनाई हुई थी। साथ ही इस कानून के बारे में लोगों तक जागरूकता फैलाकर पुलिस ने अपनी स्थिति मजबूत की जिससे बाँदा में कोई अप्रिय घटना सुनने को नही मिली।