उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
मुंबई और दिल्ली में हजारों पुलिसकर्मी तैनात किए गए थे।
मुंबई और दिल्ली में हजारों पुलिसकर्मी तैनात किए गए थे।|Google
टॉप न्यूज़

नववर्ष का जश्न : मुंबई और दिल्ली में शराब पीकर वाहन चलाने के 455 और 509 मामले दर्ज किए गए

राष्ट्रीय राजधानी सहित मुंबई में नए साल का जश्न सुचारु रूप से चले, इसके लिए हजारों पुलिसकर्मी तैनात किए गए थे।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

दिल्ली पुलिस और मुंबई पुलिस ने नव वर्ष की पूर्व संध्या पर नशे में धुत होकर गाड़ी चलाने के लिए हज़ार लोगों से अधिकों को दंडित किया। नशे में धुत होकर गाड़ी चलाने पर लगाम लगाने के लिए पुलिस प्रशासन ने चेतावनी के साथ सुरक्षित ड्राइविंग का संदेश दिया था और हुड़दंग व नशे में गाड़ी चलाने के मामले को से सख्ती से निपटने की चेतावनी दी थी।

Also read: मुंबई की पुलिस ने ‘गूंगे चोर’ के मुंह से ऐसे उगलवाया सच की तरीका जानकर आप भी हैरान कर जाओगे 

क्या है मुंबई का हाल

यातायात पुलिस द्वारा दी गई रिपोर्ट के अनुसार, सुबह छह बजे तक कम-से-कम 455 वाहन चालकों को नशे में गाड़ी चलाते हुये पकड़ा गया। अधिकारी ने बताया कि नशे में गाड़ी चलाने की वजह से उनका चालान किया गया और उनके ड्राइविंग लाइसेंस जब्त कर लिए गए।

2019 के आगमन पर महानगर में होने वाले समारोहों के सुचारू रूप से संचालन के लिए और लापरवाही से गाड़ी चलाने की घटनाओं को रोकने के लिए विभिन्न जगहों पर बड़ी संख्या में पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया था।

अधिकारी ने बताया कि 31 दिसंबर की मध्य रात्रि तक पुलिस ने 1,533 चालकों को पकड़ा था, जिनमें 76 को ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट में नशे में धुत्त पाया गया। उन्होंने बताया कि नये साल की सुबह तक कम-से-कम 455 चालकों को जांच के दौरान शराब के नशे में पाया गया। उन्होंने बताया कि अदालत के आदेशानुसार उनके खिलाफ आगे कार्रवाई की जाएगी।

Also read: दिल्ली पुलिस की बड़ी कामयाबी, 60 हजार की जाली मुद्रा के साथ शख्स गिरफ्तार

क्या है दिल्ली का हाल

एक अधिकारी ने मंगलवार को इस बात की जानकारी दी। दिल्ली पुलिस के उप प्रवक्ता अनिल मित्तल ने बताया, "हमने नववर्ष की पूर्व संध्या पर नशे में गाड़ी चलाने के लिए 509 चालान जारी किए। इनमें से अधिकतर युवा थे।" यह संख्या हालांकि पिछले नव वर्ष की पूर्व संध्या तुलना में कम है। बीते साल कम से कम 765 लोगों के चालन किए गए थे

।राष्ट्रीय राजधानी में नए साल का जश्न सुचारु रूप से चले, इसके लिए हजारों पुलिसकर्मी तैनात किए गए थे। पुलिस ने कहा कि हुड़दंगियों की गतिविधियों पर लगाम लगाने के लिए विशेष यातायात इंतजाम किए गए थे।