उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Road Jam 
Road Jam 
टॉप न्यूज़

रांची की “लाइफलाइन” में हुआ विरोध   

रोस्पा टॉवर के समीप शुक्रवार रात 56 वर्षीय नरेंद्र सिंह होरा की तीन अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी। सिंह अपनी दुकान बंद कर अपने स्कूटर से घर लौट रहे थे, तभी यह घटना हुई। 

Sneha Sinha

Sneha Sinha

रांची: सिख समुदाय के लोगों ने एक व्यापारी की हत्या के विरोध में शनिवार को यहां एक मुख्य सड़क को तीन घंटे तक बाधित रखा। यह विरोध प्रदर्शन महात्मा गांधी मार्ग के सुजाता गोल चक्कर पर किया गया। इस सड़क को रांची की 'लाइफलाइन' भी कहा जाता है।

रोस्पा टॉवर के समीप शुक्रवार रात 56 वर्षीय नरेंद्र सिंह होरा की तीन अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी। सिंह अपनी दुकान बंद कर अपने स्कूटर से घर लौट रहे थे, तभी यह घटना हुई।

उन्हें पास के अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

घटना को अंजाम देने के बाद दो बदमाश बाइक से फरार हो गए जबकि एक होरा का स्कूटर ले गया। परिवार के सदस्यों के मुताबिक, उनके स्कूटर में पांच लाख रुपये रखे हुए थे।

हत्या को लेकर गुस्साए लोगों के प्रदर्शन को कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा ने समर्थन दिया।

रांची शहर के पुलिस अधीक्षक अमन कुमार और यातायात एसपी संजय रंजन घटनास्थल पर पहुंचे और प्रदर्शनकारियों से बात की। प्रदर्शनकारी हमलावरों की तुरंत गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे।

प्रदर्शनकारी तीन घंटे बाद जाम को समाप्त करने के लिए सहमत हुए।

कांग्रेस प्रवक्ता किशोर सहदेव ने आईएएनएस से कहा, "रांची एक अपराध शहर में तब्दील हो चुका है..दुष्कर्म की घटनाएं बढ़ रही हैं और महिलाओं ने चेन झपटमारों के डर से सोने की चेन पहनना बंद कर दिया है।"

सत्तारूढ़ भाजपा ने भी घटना की निंदा की है।