उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
सांसद मनोज तिवारी
सांसद मनोज तिवारी|IANS
टॉप न्यूज़

मैं राममंदिर निर्माण के लिए प्राइवेट मेंबर बिल लाने वालों में सबसे पहला व्यक्ति - मनोज तिवारी 

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद मनोज तिवारी ने मंगलवार को कहा कि वह अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए संसद में एक निजी विधेयक (प्राइवेट मेंबर बिल) पेश करेंगे।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

नई दिल्ली | भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद मनोज तिवारी ने मंगलवार को कहा कि वह अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए संसद में एक निजी विधेयक (प्राइवेट मेंबर बिल) पेश करेंगे। इससे पहले बचन सिंह की अगुवाई में विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के 25 सदस्यों का प्रतिनिधमंडल यहां तिवारी के आवास पर उनसे मिला और राम मंदिर निर्माण के लिए एक ज्ञापन सौंपा। इसके बाद तिवारी ने यह बयान दिया।

तिवारी ने यहां मीडिया से कहा, "मुझे विहिप प्रतिनिधिमंडल से एक ज्ञापन मिला। मैं उन्हें आश्वस्त करना चाहता हूं कि मैं संसद और अपनी पार्टी में यह मुद्दा उठाऊंगा।"

यह पूछे जाने पर कि क्या वह प्राइवेट मेंबर बिल लाएंगे, उन्होंने कहा, "अगर जरूरत पड़ी तो, मैं राममंदिर निर्माण के लिए प्राइवेट मेंबर बिल लाने वालों में सबसे पहला व्यक्ति होऊंगा।"

सांसद ने कहा कि वह यह जानकार हैरान हैं कि राम मंदिर निर्माण का कार्य वर्ष 1528 यानी करीब 490 वर्ष से अधिक समय से लंबित है।

बचन सिंह ने कहा, "राम मंदिर का मामला 1950 से अदालत में लंबित है। अदालत क्योंकि मामले में देरी कर रही है, इसलिए हमने संसद में इस मामले को उठाने के लिए तिवारी जी को ज्ञापन सौंपा है।"

आपको बता दें कि, अयोध्या में राज मंदिर निर्माण विवाद रुकने का नाम नहीं ले रहा। बीजेपी सहित अभी पार्टी के नेता इस मामले में बयान बाजी कर रहे हैं। बीजेपी के राज्यसभा सांसद और आर एस एस विचारक राकेश सिन्हा ने भी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण हेतु निजी अध्यादेश लाने की बात कही है।

वहीं बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा "राम मंदिर निर्माण को लेकर हमारी सरकार शीतकालीन सत्र में कोई अध्यादेश या बिल नहीं लाएगी। वो आगे कहते हैं, ‘यह मामला सुप्रीम कोर्ट में लंबित है और हमें इसकी सुनवाई के लिए जनवरी तक इंतजार करना चाहिए। हालांकि राम मंदिर का निर्माण करना पार्टी की प्रतिबद्धता है”।

आईएएनएस