मानिकपुर विधायक ने सुनाया जनता का फरमान, चाटुकार बता रहे है धमकी, आडियो हुआ वायरल

नेता का केवल और केवल जनता के प्रति दायित्य होता है जिसके लिए नेताओं को प्रतिबद्धता भी दर्शानी चाहिए, मानिकपुर विधायक आनंद शुक्ला ने उदाहरण पेश किया है
मानिकपुर विधायक ने सुनाया जनता का फरमान, चाटुकार बता रहे है धमकी, आडियो हुआ वायरल
BJP MLA Anand Shukla Viral AudioUday Bulletin

आनंद शुक्ला बुंदेलखंड में भाजपा का जाना माना चेहरा है और वर्तमान में मानिकपुर सीट से भाजपा के विधायक है साथ ही पूरे राजनैतिक जीवन मे लोगों के लिए काम करने वाले नेता के तौर पर जाने जाते हैं। हाल फिलहाल का मामला दक्षिणांचल विद्युत वितरण खंड के अधीक्षण अभियंता से जुड़ा हुआ है, जिनसे विधायक आनंद शुक्ला ने जनता की समस्याओं को लेकर बातचीत की, विधायक ने बिजली विभाग के अधिकारी को पूर्व में कई बार कर्वी जिले में आने वाले क्षेत्र राजापुर, मानिकपुर, सरैया, मऊ और अन्य जगहों पर लो वोल्टेज और अंधाधुंध बिजली कटौती के सिलसिले में शिकायत की थी। विभागीय अधिकारियों ने इस बारे में जनाकारी दी कि यह समस्या जल्द ही सुलझा ली जाएगी और सारा कुछ जल्द ही समाप्त होगा लेकिन समय बीतने के बाद भी इसका कुछ निदान नहीँ निकला बल्कि विधानसभा क्षेत्र से विधायक के पास शिकायतें आने लगीं।

आनंद शुक्ला ने खोल दिया मोर्चा:

विधायक आनन्द शुक्ला बोलने के मामले में बेहद मुखर माने जाते है और कुछ ऐसा हुआ भी, विधायक ने सबसे पहले इस मामले में ऊर्जा मंत्री उत्तर प्रदेश श्री कांत शर्मा से बात की और जनाकारी जुटाई की क्षेत्र में बिजली कटौती कितनी होनी चाहियें? जनाकारी मिली कि अधिकतम 4 घंटे लेकिन जमीनी तौर पर हालात बेहद खराब है यहां आए दिन 12 से 14 घंटे कटौती के नाम पर बिजली काटी जा रही है और सरकार के नियमों का हवाला दिया जा रहा है। इस पर वायरल आडियो में अधीक्षण अभियंता के द्वारा यह साफ-साफ कहते हुए सुना जा सकता है कि ये बिजली ट्रिपिंग की समस्या धान रोपाई की वजह से हो रही है क्योंकि इस वक्त किसान ज्यादा ट्यूबवेल चलाते हैं। हालांकि विधायक ने अधिकारी को यह कहकर चुप करा दिया कि जब आप कनेक्शन देते है तो क्या आपके द्वारा क्षेत्र में होने वाले लोड का आकलन नहीँ किया जाता?

बातचीच को खुद विधायक आंनद शुक्ला ने इसे अपने फेसबुक पेज पर पोस्ट किया है:

सभी अधिकारी करेंगे क्षेत्र में निवास:

बिजली सुधार न होने की दशा में विधायक आनन्द शुक्ल द्वारा अधिकारी को साफ तौर पर निर्देश जारी किए है कि अगर इस समस्या का निदान आज ही नहीँ होता है तो कल से सभी अधिकारी अपने अपने क्षेत्रों में आने वाले गांवों में रात गुजारेंगे हालांकि विधायक ने यह भी साफ किया कि वह भी उनके साथ उपस्थित रहेंगे ताकि उन्हें ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगों की तकलीफ ज्ञात हो। विधायक ने इस बात पर भी जनाकारी दी कि आपके जिले के सभी विद्युत उच्चाधिकारी अपने-अपने तैनाती स्थल पर रहना सुनिश्चित करें। क्योंकि सभी अधिकारी अभी हाल में मुख्यालय में निवास बनाकर रह रहे हैं जो कि पूरी तरह नियम विरुद्ध है।

हालांकि इस वीडियो को विभागीय कर्मचारियों की शह पर विधायक की धमकी के तौर पर सोशल मीडिया में प्रसारित किया जा रहा है, जबकि इस वीडियो में ऐसा कुछ भी नजर नहीँ आता जो कि अमर्यादित हो अथवा किसी अधिकारी की गरिमा को चोट पहुंचाई जा रही हो। यह केवल एक जनता के सेवक और जनता के नौकर के बीच का वार्तालाप नजर आता है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com