Happy Republic Day
Happy Republic Day|Google 
टॉप न्यूज़

गणतंत्र दिवस पर 22 झांकियां होंगी मुख्य आकर्षण, ब्राजीलियाई राष्ट्रपति हैं मुख्य अतिथि।

राष्ट्र 71वें गणतंत्र दिवस का गवाह बनने के लिए पूरी तरह तैयार है, इसका जश्न राष्ट्रपति द्वारा ध्वजारोहण करने के साथ शुरू होगा।

Uday Bulletin

Uday Bulletin

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमर जवान ज्योति का दौरा करेंगे। वह राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर पुष्पचक्र अर्पित करेंगे।

लेकिन दिन का मुख्य आकर्षण गणतंत्र दिवस परेड सुबह 9.30 बजे शुरू होगी और यह 11.30 बजे तक जारी रहने की संभावना है।

राष्ट्रपति झंडा फहराएंगे और 21 बंदूकों की सलामी के साथ राष्ट्रगान होगा।

ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर मेसियस बोलसोनारो इस साल के मुख्य अतिथि हैं, जो प्रधानमंत्री के साथ भारत की समृद्ध विविधता को देखेंगे। 22 झाकियां राजपथ से होकर गुजरेंगी, उनमें से 16 राज्य और केंद्रशासित प्रदेशों की होंगी, जबकि शेष छह विभिन्न मंत्रालयों से हैं।

एक दिन पहले, राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने शनिवार को महात्मा गांधी के सत्य और अहिंसा के संदेश का आह्वान किया और लोगों, विशेषकर युवाओं से आग्रह किया कि वे अहिंसा का पालन करें और सामाजिक और आर्थिक उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए संवैधानिक तरीकों को ही अमल में लाए।

राष्ट्रपति ने 71वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्र को दिए एक संबोधन में कहा, "गांधीजी के सत्य और अहिंसा के संदेश को आत्मसात करना हमारी दिनचर्या का हिस्सा होना चाहिए, जो हमारे समय में सभी के लिए आवश्यक हो गया है।"

प्रधानमंत्री मोदी ने 71वें गणतंत्र दिवस की बधाई दी:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार सुबह भारत के 71वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर देशवासियों को हार्दिक बधाई दी। प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर देशवासियों को बधाई दी और बधाई संदेश में कहा, "सभी देशवासियों को गणतंत्र दिवस की बहुत-बहुत बधाई। जय हिन्द!"

इससे पहले शनिवार को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने राष्ट्र को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी।

कोविंद ने गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा, "गांधीजी के सत्य और अहिंसा के संदेश को आत्मसात करना हमारी दिनचर्या का हिस्सा होना चाहिए, जो हमारे समय में और ज्यादा आवश्यक हो गया है।"

वहीं, नायडू ने कहा, "आइए हम अपने संवैधानिक रूप से अनिवार्य मौलिक कर्तव्यों का निर्वहन करने और देश के विकास में सक्रिय भागीदारी निभाने वाले जिम्मेदार नागरिक होने का संकल्प लें।"

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com