जनता या अर्थव्यवस्था : तो क्या इस बार खुल जायेगा लॉकडाउन ?
लॉकडाउन का तिसरा चरण चल रहा है जो कि 17 मई को खत्म होने वाला है ऐसे में लोगों के मन में ये सवाल आ रहा है कि क्या इस बार भी लॉकडाउन खुलेगा या नहीं ?
जनता या अर्थव्यवस्था : तो क्या इस बार खुल जायेगा लॉकडाउन ?
India Lockdownudaybulletin

देश में लगे लॉकडाउन का आज 48वां दिन है और तमाम पाबंदियां लगाने के बाद भी कोरोना की रफ़्तार थमने का नाम नहीं ले रही। आये दिन कोरोना संक्रमितों की संख्या में इजाफा ही हो रहा है और पिछले कुछ दिनों से काफी तेजी से बढ़ते हुए यह संख्या 67 हज़ार के पार हो चुकी है। ऐसे में हर किसी के मन में बस एक ही सवाल आ रहा है की आखिर कब देश से ख़त्म होगा कोरोना संक्रमण और कब देशवासियों को लॉकडाउन से आजादी मिलेगी ?

लोग करोड़ो है और सवाल सिर्फ एक मगर सबसे अहम बात तो ये है कि क्या किसी के पास इसका जवाब है ? समय-समय पर अलग अलग देशों से इस महामारी की दवा बना लिए जाने के दावे से कुछ उम्मीद नजर जरुर आने लगती है मगर अभी तक किसी के भी दावे की जमीनी हकीकत सामने नहीं आ पायी है।

lockdown
lockdowngoogle

रेल संचालन, लॉकडाउन खोलने का संकेत तो नहीं !

रेल मंत्रालय की तरफ से कल दी गयी जानकारी के बाद से जनता में काफी सुकून देखने को मिल रहा है क्योंकि अब 12 मई से रेल संचालन शुरू हो जाने के बाद अलग अलग राज्यों में फंसे लोग अपने घरों को जा सकेंगे।

जी हाँ, सरकार की तरफ से बीती रात इस बात का ऐलान कर दिया गया है कि अब आम यात्रियों के लिए भी रेल सेवाएँ शुरू की जा रही है। इस बात से देशवासियों में थोड़ी राहत मिली है और उम्मीद जताई जा रही है कि शायद अब इसके बाद लॉकडाउन 4.0 देखने को नही मिलेगा।

कैसे पटरी पर आएगी देश की आर्थिक व्यवस्था

चाहे रेल सेवा शुरू करने की बात हो या फिर लॉकडाउन में जनता को छुट देने की ये सभी चीजें इस एक ही तरफ इशारा कर रही है कि लम्बे समय से ठप्प थमी हुई देश की अर्थव्यवस्था को भी कुछ गति देने का प्रयास सकरार कर है।

संभव है कि इस दिशा में सरकार भी धीरे-धीरे ही कदम बढ़ा रही है जिससे ना सिर्फ जनता को राहत मिलने वाली है बल्कि अर्थव्यवस्था भी वापस पटरी पर आएगी। और लॉकडाउन खोले बिना यह संभव भी नहीं है, इसलिए ज्यादातर लोग अनुमान लगा रहे है कि यक़ीनन ये सभी बातें लॉकडाउन खोलने की तरफ ही इशारा कर रही हैं।

lockdown
lockdowngoogle

पीएम मोदी का मुख्यमंत्रियों संग 5वीं बैठक

चूँकि देश में कोरोना की रफ़्तार अभी तक थमी नहीं है और स्थिति अभी भी काफी नाजुक बनी हुई है। हालाँकि देश में कोरोना से स्वस्थ्य हो चुके लोगों की संख्या में भी इजाफा देखा जा सकता है। संभव है आज मुख्यमंत्रियों के संग बैठक में पीएम मोदी ने इस बात पर ही चर्चा की, क्या देश में लॉकडाउन को आगे बढाया जाये या फिर इसे जारी रखते हुए इसमें और भी ढील दी जाये।

किसी भी देश में जब लगातार 48 दिनों तक सब कुछ बंद हो जायेगा तो निश्चित रूप से इसका असर ना सिर्फ वहां की आम जनता पर बल्कि अर्थव्यवस्था पर भी पड़ेगा।

मगर सिर्फ अर्थव्यवस्था को बढ़ाने या उसे प्रगतिशील बनाये रखने के लिए देश के जनता की जान जोखिम में नहीं डाला जा सकता है। माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री दो चरण में अलग अलग राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ विडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिये मीटिंग करके के बाद इस निष्कर्ष पर आयेंगे कि देश में क्या फिर से लॉकडाउन बढाया जायेगा या फिर खोल दिया जायेगा।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com