हाथ छोड़ कमल के साथ सिंधिया, पिता की 75वीं वर्षगांठ पर लिया बड़ा निर्णय।

सिंधिया ने कहा वो दिन नहीं भूल सकता जब मैंने मेरे पिता को खोया।
हाथ छोड़ कमल के साथ सिंधिया, पिता की 75वीं वर्षगांठ पर लिया बड़ा निर्णय।
jyotiraditya scindia joins bjpANI

पिछले कई दिनों से चल रही उठापठक के बाद आखिरकार आज ज्योतिरादित्य सिंधिया भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए। सिंधिया को भाजपा के दिल्ली मुख्यालय पर बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने प्राथमिक सदस्य्ता दिलाई।

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बीजेपी की प्राथमिक सदस्य्ता लेने बाद अपने सम्बोधन में कहा:

  1. जनसेवा का लक्ष्य कांग्रेस में पूरा नहीं हो पा रहा था।
  2. पीएम मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और जेपी नड्डा ने मुझे जनसेवा का मंच दिया।
  3. मध्य प्रदेश में रोजगार के अवसर नहीं।
  4. मध्य प्रदेश में भ्रस्टाचार के बड़े अवसर हैं।
  5. भाजपा परिवार में जगह देने के लिए पीएम मोदी, गृहमंत्री का शुक्रिया।
  6. पीएम मोदी में योजनाओं को लागू करने की क्षमता।
  7. भारत का भविष्य देश के प्रधानमंत्री मोदी के हाथों में सुरक्षित।
  8. कांग्रेस में जड़ता का वातावरण है, भाजपा में मुझे विकास का अवसर मिलेगा।
  9. 18 महीने बाद भी किसानों के ऋण माफ़ नहीं हुए।
  10. मध्य प्रदेश में ट्रांसफर उद्योग चल रहा है।

वहीँ मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा सिंधिया के बीजेपी में आने से पार्टी मप्र में मजबूत होगी, पूरे देश में सिंधिया की सक्रियता का लाभ मिलेगा। हम मिलकर एक साथ काम करेंगे।

ज्योतिरादित्य सिंधिया का बुआ और राजस्थान बीजेपी की नेता बसुंधरा राजे ने कहा सिंधिया ने विरासत में मिले उच्च आदर्शों का अनुसरण किया, और देशहित में फैसला लिया। अगर राजमाता आज होती तो उन्हें ज्योतिरादित्य पर गर्व होता।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com