उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
 राष्ट्रीय राजधानी में चार स्थानों पर आग लगी 
राष्ट्रीय राजधानी में चार स्थानों पर आग लगी |New Indian
टॉप न्यूज़

राजधानी दिल्ली में 24 घंटों के भीतर 4 जगहों पर आगजनी की घटनाएं

अग्निशमन विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि बीते सोमवार को राष्ट्रीय राजधानी में पिछले 24 घंटों में चार स्थानों पर आग लगने की घटनाएं हो चुकी हैं।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

नई दिल्ली:अग्निशमन विभाग के एक अधिकारी ने सोमवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में पिछले 24 घंटों में चार स्थानों पर आग लगने की घटनाएं हो चुकी हैं। पहली सबसे बड़ी घटना भलस्वा कूड़ा स्थल (लैंडफिल साइट) पर हुई जहां रविवार को आग लग गई थी, वहां निगम के अभियंता और अग्निशमन कर्मी सोमवार शाम तक आग बुझाने का प्रयास कर रहे थे।

अग्निशमन विभाग के एक अधिकारी ने कहा, "मौके पर अभी भी अग्निशमन की तीन गाड़ियां हैं। यहां आग लगने की खबर हमें रविवार दोपहर 2.58 बजे मिली थी। यह अभी भी बुझी नहीं है।"

दिल्ली के तीन कूड़ा स्थलों में से एक भलस्वा कूड़ा स्थल के लगभग 100 वर्गमीटर क्षेत्र में रविवार रात आग लग गई थी। अधिकारियों ने कहा कि आग से कूड़ा उड़ने लगा और मलबे से नहीं दबा। कूड़ा स्थल से निकलने वाली हानिकारक रासायनिक भाप और गैसें अक्सर आग पकड़ लेती हैं जिससे पहले ही बहुत खराब स्तर पर पहुंच चुकी दिल्ली की वायु गुणवत्ता के और खराब होने का खतरा मंडरा रहा है।

उत्तरी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी) के पर्यावरण रखरखाव सेवा विभाग (डीईएमएस) के अभियंता संजय जैन ने कहा, "कुछ बिना ढके कूड़ा स्थलों पर आग लगी है। हम इसे मलबे से ढकने का प्रयास कर रहे हैं। स्थिति नियंत्रण में है।"

अधिकारियों ने कहा कि भलस्वा कूड़ा स्थल लगभग 40 एकड़ में फैला है और 2017 के बाद से दो मीटर ऊंचा हो चुका है। उन्होंने बताया कि यहां प्रतिदिन लगभग 2,000 टन से ज्यादा कूड़ा डाला जाता है।

दिल्ली में तीन कूड़ा स्थल हैं। पूर्व में गाजीपुर, दक्षिण में ओखला और उत्तर में भलस्वा में। सिर्फ पश्चिमोत्तर में बवाना में स्थित कूड़ा स्थल ही अभियांत्रिकी युक्त ठोस कूड़ा स्थल और प्रसंस्करण स्थल है।

अग्निशमन विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि सोमवार को ही इससे पहले मध्य दिल्ली के मोरी गेट पर एक पार्किं ग में आग लग गई। आग एक बस और एक ट्रक में लगी बताई जा रही थी।

उन्होंने कहा, "अग्निशमन की तीन गाड़ियां तत्काल घटना स्थल भेजी गईं और आग पर नियंत्रण पा लिया गया। किसी जनहानि की सूचना नहीं है।"

अधिकारी ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में पिछले 24 घंटों में आग लगने की छोटी-मोटी घटनाओं के अतिरिक्त चार बड़ी घटनाएं हुईं हैं।

पश्चिमी दिल्ली में रघुबीर नगर में विस्फोट सहित रविवार को राष्ट्रीय राजधानी में कुल तीन मामले आए। एक सिलेंडर में विस्फोट होने से सात लोग घायल हो गए थे।

अधिकारी ने कहा, "हमें इसकी सूचना रविवार रात 8.20 बजे मिली। घटना में सात लोग 50-60 फीसदी जल गए हैं।"

उन्होंने कहा, "इसके अतिरिक्त रविवार रात 8.40 बजे दिल्ली के मोती नगर में आग लग गई। आग बुझाने के लिए अग्निशमन की एक दर्जन गाड़ियां भेजी गईं।"