उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
ceasefire violation by pakistan
ceasefire violation by pakistan|IANS
टॉप न्यूज़

भारतीय सेना ने जवाबी कार्रवाई में पीओके में 4 आतंकी लॉन्च पैड नष्ट किए

लड़ाई के मूड में है पाकिस्तान।

Uday Bulletin

Uday Bulletin

भारतीय सेना ने रविवार को पाकिस्तान के संघर्ष विराम के उल्लंघन का जवाब देते हुए पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (POK) में चार आतंकी लॉन्च पैड नष्ट कर दिए और कम से कम चार पाकिस्तानी सैनिकों को ढेर कर दिया। पाकिस्तान की गोलीबारी में जम्मू एवं कश्मीर में भारत के दो सैनिक शहीद हो गए और एक नागरिक की मौत हो गई। भारतीय सेना ने आर्टिलरी गन से पाकिस्तानी सैन्य चौकियों पर भी हमले किए जिससे शत्रु क्षेत्र में भारी नुकसान हुआ है।

सेना के एक सूत्र ने बताया कि आतंकी लॉन्च पैड्स पर हमले पाकिस्तानी सेना द्वारा आतंकवादियों को भारतीय सीमा में घुसपैठ करने में मदद करने के जवाब में किए गए। आतंकवादी शिविरों पर हमला करने के लिए सेना ने आर्टिलरी बंदूकों का इस्तेमाल किया।

सूत्रों के अनुसार, जम्मू एवं कश्मीर में नियंत्रण रेखा (LOC) पर तंगधार सेक्टर के विपरीत में स्थित नीलम घाटी में चार आतंकी लॉन्च पैड्स नष्ट हो गए। आर्टिलरी गन हमले में चार-पांच पाकिस्तानी सैनिकों की मौत के अलावा भी वहां बहुत नुकसान हुआ है।

राजनाथ सिंह और जनरल रावत लेह में दरबुक को चीन सीमा से लगी वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के पास दौलत बेग ओल्डी से जोड़ने वाली नवनिर्मित सड़क पर बने सामरिक रूप से महत्वपूर्ण पुल का उद्घाटन करने सोमवार को पूर्वोत्तर लद्दाख का दौरा करने वाले हैं, जिससे एक दिन पहले यह घटना हुई है।

सेना के सूत्रों ने कहा कि 19 और 20 अक्टूबर की दरम्यानी रात को पाकिस्तान ने तंगधर सेक्टर में बिना किसी उकसावे के संघर्ष विराम उल्लंघन किया, जो कि गोलीबारी की आड़ में आतंकवादियों को भारतीय सीमा में प्रवेश कराने का प्रयास था।

सूत्रों ने कहा, "इसके जवाब में भारतीय पक्ष ने आतंकवादी लॉन्च पैड्स, इन लॉन्च पैड्स को सुरक्षा प्रदान करने वाली पाकिस्तानी सेना की चौकियों और कुछ गन पोजिशन्स को निशाना बनाया।"

पाकिस्तानी सेना ने तंगधर के घुंडीशत गांव में रिहायशी इलाके में शनिवार रात आर्टिलरी गन से गोलीबारी की थी, जिसमें मोहम्मद सादिक (55) की मौत हो गई थी। घायल हुए तीन नागरिकों की पहचान मोहम्मद मकबूल (70), मोहम्मद शफी (50) और यूसुफ हामिद (22) के रूप में हुई है।

पाकिस्तान द्वारा जम्मू एवं कश्मीर में पिछले पांच साल में किया गया संघर्ष विराम का उल्लंघन 2019 में सर्वाधिक रहा है।

पाकिस्तान इस साल अक्टूबर 2019 तक 2,300 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर चुका है, जबकि 2018 में पाकिस्तान ने पूरे साल में 1,629 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया था।