PM Modi and jyotiraditya scindia Meeting 
PM Modi and jyotiraditya scindia Meeting |Google 
टॉप न्यूज़

कुछ ही घंटो में सिंधिया बीजेपी में होंगे शामिल, अमित शाह के साथ पीएम मोदी से मिलने पहुंचे।

कांग्रेस से नाराज सिंधिया ने प्रधानमंत्री मोदी से की मुलाकात

Abhishek

Abhishek

मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार बेहद मुश्किल में है। भारतीय जनता पार्टी के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस से नाराज चल रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की है। इस मुलाकात के बाद अब तय माना जा रहा है कि सिंधिया भाजपा सरकार को समर्थन देने जा रहे हैं या फिर भाजपा में शामिल हो रहे हैं।

भाजपा सूत्रों ने बताया है कि सिंधिया भोपाल में भाजपा की बैठक में भी शामिल हो सकते हैं। सरकार और पार्टी में उनकी और उनके समर्थक विधायकों की क्या भूमिका होगी, यह तय कर लिया गया है।

सूत्रों ने बताया है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को पार्टी में शामिल भी किया जा सकता है। भाजपा इस बात को लेकर आश्वस्त है कि अगले दो-तीन दोनों में कमलनाथ सरकार अल्पमत में आ जाएगी।

माना जा रहा है कि कांग्रेस के बागी विधायक विधानसभा अध्यक्ष को अपने इस्तीफे भेज सकते हैं। ऐसे विधायकों की संख्या 20 हो सकती है। यानी अगर ऐसा होता है तो कमलनाथ सरकार अल्पमत में आ जाएगी और इसके बाद शिवराज सिंह चौहान सरकार बनाने का दावा पेश कर सकते हैं। माना जा रहा है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को राज्यसभा भेजे जाने के साथ ही उनके कुछ समर्थक विधायकों को मंत्री पद भी दिया जा सकता है।

बता दें कि मध्य प्रदेश में 230 विधानसभा सीटें हैं। कांग्रेस के पास 114 विधायक हैं, जबकि सरकार बनाने का जादुई आंकड़ा 115 है। कांग्रेस को चार निर्दलीय, दो बहुजन समाज पार्टी और एक समाजवादी पार्टी के विधायक का समर्थन हासिल है। इस तरह कांग्रेस के पास कुल 121 विधायकों का समर्थन है। वहीं भाजपा के पास 107 विधायक हैं।

भोपाल पहुंचे शिवराज, भाजपा-कांग्रेस विधायक दल की बैठक आज:

मध्य प्रदेश में जारी सियासी घमासान के बीच पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भोपाल पहुंच गए है। वहीं भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस दोनों ने ही मंगलवार शाम अपने-अपने विधायक दल की बैठक बुलाई है। राज्य में कमलनाथ सरकार पर संकट के बादल छाए हुए हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थन वाले 17 विधायक अभी भी लापता हैं, सभी के फोन बंद हैं। वहीं सिंधिया और उनके समर्थकों की ओर से कोई बयान सामने नहीं आया है। इन स्थितियों पर भाजपा नजर बनाए हुए है।

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा दिल्ली से भोपाल पहुंच गए हैं। मिश्रा ने कहा, "कमलनाथ सरकार चलने वाली नहीं है।" वहीं शिवराज चौहान ने विधायक दल की बैठक को सामान्य बताया है।

भाजपा ने शाम सात बजे विधायक दल की बैठक बुलाई है, वहीं कांग्रेस विधायक दल की बैठक पांच बजे होने वाली है। दोनों ही पार्टियों के विधायक दल की बैठक पर सभी की नजरें बनी हुई हैं।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com