उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Nikkeri Asian
Nikkeri Asian|Whats App
टॉप न्यूज़

सरकार ने बात नहीं मानी तो, सोशल मैसेजिंग ऐप व्हाट्सएप भारत से कह सकता है अलविदा  

व्हाट्सएप कंपनी ने यह ऐलान किया है कि अगर सरकार द्वारा उन्हें उनके हिस्से का सही भुगतान नहीं किया जाएगा तो वह अपने ऐप व्हाट्सएप को बंद कर देंगे। 

Suraj Jawar

Suraj Jawar

भारत में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किये जाने वाला सोशल मैसेजिंग ऐप लोगों को अलविदा कह सकता है। व्हाट्सएप कंपनी ने यह ऐलान किया है कि अगर सरकार द्वारा उन्हें उनके हिस्से का सही भुगतान नहीं किया जाएगा तो वह अपने ऐप व्हाट्सएप को बंद कर देंगे। कंपनी ने सरकार पर यह इल्ज़ाम लगाया है कि , वह गूगल और अन्य कंपनियों की पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए व्हाट्सएप के पेमेंट में कटौती कर रहे हैं। सरकार द्वारा व्हाट्सएप के लिए किए जा रहे इस भेदभाव का कारण कुछ और नहीं बल्कि व्हाट्सएप पर बढ़ रहे फ़र्ज़ी संदेस हैं जो सरकार को काफी समय से खटक रहे हैं।

Whats App
Whats App
One India

सरकार के अनुसार, सरकार ने पहले ही व्हाट्सएप को इस बात के लिए सतर्क कर दिया था, सरकार ने व्हाट्सएप से कहा था कि वह अपने ऐप के तकनीक में बदलाव करे ताकि हम आसानी से व्हाट्सएप पर गलत तरह के संदेश भेजने वालों को पकड़ सके, अगर कंपनी ऐसा करती है तभी वह अपनी पेमेंट सेवा फिर से शुरू कर पाएगी। इतना ही नही, सरकार ने व्हाट्सएप से कहा है कि वह अपने सर्वर देश में स्थापित करें और कंपनी ने सरकार की यह बात मान भी, लेकिन सरकार यहाँ नही रुकी, उन्होंने अगले ही पल व्हाट्सएप से कह डाला कि वह अपना सर्वर केवल भारत में ही स्थापित करे।

सरकार के इस बयान के बाद व्हाट्सएप ने सरकार को समझाने की कोशिश की कि इस तरह के संदेश कहाँ से भेजे जा रहे हैं इसका पता लगाना मुमकिन नही है और इस से व्हाट्सएप की प्राइवेसी पॉलिसी पर बुरा असर पडेगा, और अगर सरकार ने उन्हें ऐसा करने के लिए मजबूर किया तो उन्हें भारत में अपना व्यापार बंद करना पड़ेगा। व्हाट्सएप के प्रवक्ता ने साफ साफ कह दिया है कि अगर इस तरहं के बदलाव किए जाते हैं तो एप के दुरुपयोग की संभावना बढ़ सकती है जो कि हम नही होने देना चाहते हैं। प्रवक्ता ने यह भी कहा कि आज वह समय आगया है कि आम जनता किसी भी तरहं की जानकारी के आदान प्रदान के लिए व्हाट्सएप पर निर्भर हैं, हम केवल लोगों को सही और गलत संदेशों के बारे में सतर्क करके उन्हें सुरक्षित रखना चाहते हैं।

इस विवाद के बाद व्हाट्सएप ने सरकार से वादा किया है कि वह कानून का पूरी तरह से पालन करेंगे और आम जनता की शिकायतों के समाधान के लिएअधिकारी भी नियुक्त करेंगे। इलेक्ट्रॉनिक एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने बताया है कि व्हाट्सएप ने सरकार से कहा है कि वह इस तरह के हिंसक संदेश भेजने वालों कस खिलाफ सख़्त कदम उठाएगी, हाल ही में व्हाट्सएप जस सीईओ ने केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद से मुलाकात भी की। विश्व में लगभग 150 करोड़ से ज्यादा लोग व्हाट्सएप का इस्तेमाल करते हैं ,व्हाट्सएप जल्द ही भारत में यूपीआई आधारित पेमेंट सर्विस लांच करने वाला है। इसकी टेस्टिंग भी चल रही है। इससे पहले व्हाट्सएप फेक न्यूज़ को लेकर विवादों में रह चुका है, जिसके बाद व्हाट्सएप को चेतावनी भी दी गयी थी कि अगर इस तरह की खबरें व्हाट्सएप पर आनी बंद नही हुई तो उसे बैन कर दिया जाएगा।