उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी नेता राजनाथ सिंह 
प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी नेता राजनाथ सिंह 
टॉप न्यूज़

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, ‘‘ अगर सदस्य चाहते हैं कि चर्चा हो तो सरकार राफेल तथा अन्य मुद्दों पर चर्चा के लिए तैयार है। ’’

उच्चतम न्यायालय (Supreme Court) के फैसले के बाद राफेल मामले में ‘दूध का दूध, पानी का पानी’ हो गया है।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

नई दिल्ली: राफेल सौदा मामले (Rafale Deal Case) में संसद में पिछले छह दिनों से कांग्रेस (Congress) के हंगामे की पृष्ठभूमि में गृह मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने बुधवार को कहा कि सरकार इस मामले पर चर्चा के लिए तैयार है।

बीजेपी नेता (BJP) व गृह मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने लोकसभा में शून्यकाल को कहा, ‘‘ अगर सदस्य चाहते हैं कि चर्चा हो तो सरकार राफेल सौदा मामला (Rafale Deal Case) तथा अन्य मुद्दों पर चर्चा के लिए तैयार है। ’’ लोकसभा में कांग्रेस (Congress) के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने संयुक्त संसदीय समिति (JPC) :जेपीसी: की मांग दोहराते हुए कहा कि राफेल मामले (Rafale Deal Case) में जिम्मेदारी तय करने के लिए सरकार को जेपीसी (JPC) बनाने की मांग स्वीकार करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि विमान की कीमत, हिंदुस्तान एयरनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) को ठेका नहीं मिलना और सरकारी खजाने को नुकसान सहित कई पहलुओं पर जांच होनी है और यह सिर्फ जेपीसी (JPC) के जरिए आ हो सकता है। संसदीय कार्य मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि सरकार राफेल मामले (Rafale Deal Case) पर चर्चा के लिए तैयार है, लेकिन जहां तक जेपीसी (JPC) की मांग का सवाल है तो उच्चतम न्यायालय (Supreme Court) के फैसले के बाद इस मामले में ‘दूध का दूध, पानी का पानी’ हो गया है।

गौरतलब है कि राफेल मामले की जांच के लिए जेपीसी के गठन की मांग करते हुए संसद के शीतकालीन सत्र की शुरुआत से ही लोकसभा में हंगामा कर रही है।

राफेल तथा कुछ अन्य मुद्दों पर हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही निरंतर बाधित हुई है।?( BJP) भाजपा ने इस मुद्दे पर उच्चतम न्यायालय (Supreme Cour) के फैसले के आलोक में मंगलवार को लोकसभा में राहुल गांधी से माफी मांगने की मांग की थी । हालांकि बीजेपी (BJP) नेता राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) के के बयान के बाद राफेल सौदे में JPC द्वारा जांच कराई जा सकती है।