Vikas Dubey Arrested in Ujjain Mahakal Temple
Vikas Dubey Arrested in Ujjain Mahakal Temple|Image Source: Social Media
टॉप न्यूज़

विकास दुबे का ऐसे गिरिफ्तार होना लाखों सवाल खड़े करता है

लुकाछिपी का खेल ख़त्म, कानपुर का गैंगस्टर विकास दुबे उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार, यूपी पुलिस खोजती रही और विकास उज्जैन पहुँच गया ।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

अटल जी की एक कविता की पंक्तियों के उल्लेख करना जरूरी हो जाएगा, "जिंदगी मौत से बड़ी हो गयी" खैर मामला विकास दुबे से जुड़ा हुआ है और इतने संवेदनशील मामले के मुख्य आरोपी का उज्जैन महाकाल मंदिर परिसर से गिरिफ्तार होना कुछ सवाल खड़े करता है।

फरीदाबाद में दिखा और उज्जैन से पकड़ा गया "कल शाम तक उत्तर प्रदेश पुलिस इस उधेड़बुन में रही कि विकास नोयडा फ़िल्म सिटी में नेशनल मीडिया के सामने आकर खुद को पकड़ा सकता है वहीँ यह उम्मीद भी रही कि विकास या तो कहीं हरियाणा में छुपा है या मध्यप्रदेश की चंबल की घाटियों में लेकिन आज तड़के ही मीडिया और सोशल मीडिया में फैलने वाले वीडियो में यह जानकारी मिली कि दुर्दांत अपराधी विकास दुबे उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर परिसर से पकड़ा गया। अब इसे तगड़ी प्लानिंग कहे या फिर देश की पुलिस की नाकामयाबी विकास फरीदाबाद से निकलकर उज्जैन तक कैसे पहुंचा, दरअसल ये खेल या तो चूहे बिल्ली का था या फिर खुद विकास राज्यों की पुलिस को उलझा कर रखे हुए था।

यूपी ठीक नहीं मध्यप्रदेश सुरक्षित है:

अगर यूपी के डकैतों के ट्रैक इतिहास को खंगाले तो नजर डालने पर पाया जाता है कि जितने बदमाश और डकैत यूपी में अपना सिक्का जमाते थे वो अपने सरेंडर के के टाइम एमपी का रुख करते थे। अमूमन यह माना जाता रहा है कि एमपी पुलिस एन्काउंटर करने में विश्वास नहीं रखती। जानकारों के मुताबिक विकास दुबे ने भी यही चाल चली और वह कामयाब भी हुआ। विकास ने लोगों के सामने चिल्ला-चिल्ला कर खुद को लोगों की नजर में लाया गया और जानकारी फैलने पर स्थानीय महाकाल थाना पुलिस द्वारा गिरिफ्तार करके किसी सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया।

पुलिस का अगला कदम क्या होगा?

जानकारी के मुताबिक मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से फोन पर बात की है और ट्रांजिट रिमांड की सारी कार्यवाही पूरी किये जाने के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंपा जाएगा। जहाँ अभी तक विकास से एमपी पुलिस पूंछताछ कर रही है वहीँ इसके बाद यूपी पुलिस से पूंछताछ का सिलसिला शुरू होगा। इसके बाद से ही सारे क्रियाकलापों का होना शुरू होगा, लोगों की आशंका है कि पूंछताछ में विकास की मदद करने वाले राजनेताओं और ब्यूरोक्रेट्स के नाम उजागर हो सकते है।

पुलिस बख्शने के मूड में बिल्कुल नहीं है:

कानपुर वाला विकास दुबे उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार #VikasDubey #MPPOLICE #uppolice #ujjain

Posted by Uday Bulletin on Thursday, July 9, 2020

विकास के पकड़े जाने के पहले लोगों को यह उम्मीद थी कि विकास जल्द ही पुलिस की गोली से मारा जाएगा। चूंकि पुलिस ने ट्रैक रिकार्ड भी बनाया कि विकास के हर गुर्गे और साथी को गोलियों से भूना जा रहा था तो विकास अपनी मौत को लेकर आशंकित सा हो गया था उसे लग रहा था कि अगर वह किसी भी प्रकार से यूपी पुलिस के हाँथ लगता है तो वह किसी भी सूरत में जिंदा नहीं बचेगा और इसी चक्कर मे उसने खुद को मध्यप्रदेश पुलिस के द्वारा पकड़वाया। हालांकि ट्रांजिट रिमांड के बाद विकास का यूपी पुलिस के हांथो आना तय है लोगों की आशंका है कि यूपी पुलिस के हाँथ लगने के बाद नई कहानी गढ़ी जा सकती हैं व हैदराबाद रेप केस कांड जैसे सीन रिक्रिएट भी किया जा सकता है। चूंकि प्रदेश में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद से ही उबाल है इसलिए शंका है कि विकास दुबे भले ही पुलिस की गिरफ्त में आ चुका हो लेकिन पुलिस कोई कसर नहीं उठा रखेगी।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com