Munawar Faruqui for abusing Lord Ram and Mata Sita
Munawar Faruqui for abusing Lord Ram and Mata Sita|Uday Bulletin
टॉप न्यूज़

मुनव्वर फारूकी ने राम सीता का उड़ाया मजाक, लोगों की भावनाएं आहत हुई

आखिर मजाक की भी एक हद होती है, लेकिन कई बार हम बोलने की आजादी और मजाक की आड़ में कुछ ऐसा भी बोल जाते है जिसकी आजादी आपको आपका संविधान नहीं देता।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

आपको भले ही ये एक मजाक लगे लेकिन असल मे इसमें घिनापन नजर आने लगता है।

राम सीता भी मजाक से अछूते नहीं :

आपको याद है जब किसी धर्म के प्रमुख का सिर्फ कार्टून बनाने पर महशूर पत्रिका के मुख्यालय पर जमकर गोली बारी की गई थी। इसमें कई लोग अपनी जान से हाँथ धो बैठे थे, मामला मजाक का ही था, लेकिन भारत मे आपको ऐसी पूरी आजादी है कि आप समुदाय विशेष के पुरोधाओं के ऊपर मजाक उड़ा सकते है। हालाँकि इसमे कितना ह्यूमर है, हमे नजर नहीं आता लेकिन बैकग्राउंड में ठहाके लगाने की आवाजें आती है।

सोशल मीडिया में वायरल हो रहे एक वीडियो का नमूना देख लीजिये:

मुझे इस हारामि से ज्यादा गुस्सा आ रहे है जो बैठे हस रहे है 😬😬😬😬😬😬😬😬😬😬😬😬😬 अभिव्यक्ति की आजादी है तो अपने धर्म पर बोल कुत्ते 😡

Posted by Soldier's Opinion on Sunday, April 19, 2020

मामला बहुसंख्यक समुदाय के आराध्य श्री राम और सीता के वन गमन और वन से लौटकर आने के साथ हिंदी सिनेमा के कुछ प्रचलित गानों से जुड़ा हुआ है, जहाँ इन गानों के साथ उस समय की परिस्थितियों से फूहड़ता भरा रिलेशन स्थापित करने की कोशिश की जाती है।

मामला क्या है:

एक स्टैंडअप कॉमेडियन है, जैसे कि कुणाल कामरा है, ठीक वैसे ही नाम है फारूकी मुनव्वर, मसखरे है लोगों को हँसाते रुलाते है चुटीले व्यंग कसते हैं। भले ही व्यंगों को कारगर बनाने के लिए अश्लीलता का सहारा लेना पड़े, इनके कुछ वीडियो आजकल शोसल मीडिया में चर्चित है, जिंनमे मुनव्वर को राम सीता और उनके वनवास को लेकर बेहद भद्दे कमेंट करते हुए साफ साफ देखा और सुना जा सकता है, एक अन्य वीडियो में गुजरात के गोधरा में हुई दर्दनाक घटना "गोधरा कांड ) को एक फ़िल्म का सीन ( द बर्निंग ट्रेन) के नाम से बताया जाता है। लोगों को उनके शब्द चयन पर आपत्ति है, लोगों के अनुसार कोई व्यक्ति इतना असंवेदनशील कैसे हो सकता है?

मजाक फिर मजाक नहीं रह जाता :

मजाक की एक सीमा होती है, लेकिन जैसे ही कोई मजाक की सीमा को पार करता है वह मजाक न होकर एक गाली अथवा अनर्गल बात होकर रह जाता है, कुछ ऐसा ही फारूकी मुनव्वर की कॉमेडी में नजर आता है। लोगों के अनुसार आपको यह अधिकार किसने दिया कि आप किसी धर्म के चरित्रों को इस तरह से पेश करें?

लोगों का गुस्सा बढ़ रहा है :

अगर आज के परिदृश्य को देखें तो इन दिनों लॉक डाउन की स्थिति है जिसकी वजह से हर व्यक्ति अपने देश और समाज के भविष्य को लेकर चिंतित है उस वक्त में जामाती कनेक्शन सामने आने के बाद लोगों की भावनाओ में समुदाय विशेष के लोगों के लिए एक अलग प्रकार का दृष्टिकोण तैयार हो रहा है। ऐसे मौकों पर इस तरह के वीडियो वायरल होकर आग में घी का काम कर रहे हैं, लोगों के अनुसार इस तरह के मजाक को किसी भी हालत में बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। लोगों द्वारा तमाम सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर मुनव्वर के खिलाफ कार्यवाई करने की मांग की जा रही है।

मुनव्वर फारूकी के खिलाफ एफआईआर दर्ज:

FIR Against <a href="https://twitter.com/hashtag/MunawarFaruqui?src=hashtag_click">Munawar Faruqui</a>
FIR Against <a href="https://twitter.com/hashtag/MunawarFaruqui?src=hashtag_click">Munawar Faruqui</a>

मुनव्वर फारूकी के खिलाफ प्रागराज के जॉर्जटाउन थाने में गृह मंत्री अमित शाह और राम-सीता पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर लिया है।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com