दुनिया ने ताका भारत का मुँह, हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन की मांग रखी 

ट्रंप ने कोरोनावायरस महामारी से लड़ने में असरदार हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन दवा के प्री-आर्डर के निर्यात को अनुमति देने के लिए प्रधानमंत्री मोदी का दो बार शुक्रिया अदा कर, उन्हें एक अच्छा इंसान बताया
दुनिया ने ताका भारत का मुँह, हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन की मांग रखी 
Donald Trump said Thank you to PM ModiGoogle

जो दुनिया भारत को बम गोले और हथियार बेचने के लिए सब्जबाग दिखाती थी, आज उसे महज कुछ दवाओं के लिए भारत के दरवाजे खटखटाने पड़ रहे है। मामला वैश्विक समस्या से जुड़ा हुआ है तो भारत ने भी दिल बड़ा करके इन दवाओं के निर्यात पर लगी हुई रोक में छूट दे दी है।

अमेरिका समेत तमाम देशों ने मांगी दवा:

आपको एक वक्त याद होगा जब भारत को रक्षा उत्पादों के लिए तमाम देशों से ऑफर मिलना शुरू हो जाते थे, फिर चाहे वह लड़ाकू विमान हो या फिर एसाल्ट रायफल या कोई मिसाइल रोधी रक्षा उपकरण। दुनिया मे महाशक्ति के रूप में स्थापित देश अपने-अपने उपकरणों के साथ अपने सामान के औने पौने रेट बताकर भारत को लूटने की कोशिश करते थे। लेकिन अब वक्त बदल रहा है, दुनिया मे अमेरिका जैसे देश भारत मे बनने वाली दवा hydroxychloroquine दवा के लिए मांग कर रहे है।

मोदी ने दवा के दरवाजे खोले और महान बने :

दरअसल विश्व मे फैली महामारी के दौरान नरेंद्र मोदी में अमेरिका ब्राजील समेत अन्य कोरोना प्रभावित देशों के लिए इस दवा के निर्यात के दरवाजे खोल दिये हैं। इस पर ब्राजील के राष्ट्रपति ने उन्हें महावीर हनुमान की तरह संजीवनी बूटी प्रदान करने वाला बताया है। और डोनाल्ड ट्रंप जो कल तक भारत को इस दवा के न मिलने की स्थिति में बड़ी कार्यवाही के संकेत दे रहे थे अब वो मोदी को महान बताते नहीं थक रहे है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com