दिग्विजय सिंह चले थे शाबासी बांटने, कुमार विश्वास ने लंबा ज्ञान दे दिया

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने शेयर की कुमार विश्वास की वीडियो जिसमे वह जवाहर लाल नेहरू की तारीफ कर रहे थे। तो इसपर कुमार विश्वास बोले सारी सुना कीजिये और भी बहुत कुछ बोला है।
दिग्विजय सिंह चले थे शाबासी बांटने, कुमार विश्वास ने लंबा ज्ञान दे दिया
Kumar Vishwas and Digvijay SinghUday Bulletin

एक कहावत है कि कवि, सुई और तोता कभी किसी एक का होकर नहीं रहा और ऐसा होना भी चाहिए क्योकि जिसके कंधे पर जन जागरण की जिम्मेदारी हो तो वह कभी भी दरबारी नहीं हो सकता। कुमार विश्वास ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री को कुछ ऐसा ही जवाब दिया है जिसपर दिग्विजय सिंह का बोलना और न बोलना दोनो बेहद जटिल है।

दिग्विजय सिंह का उदाहरण देना फजीहत साबित हुआ:

हमारे यहाँ एक कहावत है कि दुबे जी चौबे बनने गए और छब्बे बनकर लौट आये। कुछ ऐसा ही वाकया मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह के साथ हो गया। दरअसल दिग्विजय सिंह भारतीय राजनीति के बड़बोले नेताओ में से जाने जाते है। जिनकी गिनती भारत के उन कुछ चुनिंदा नेताओ में होती है जो बोलने के पहले कुछ नहीं सोचते। दरअसल भारत मे दक्षिण पंथ चीन के साथ विवादों और भारत पाकिस्तान बटवारे को लेकर भारत के प्रथम प्रधानमंत्री और कांग्रेस के नेता जवाहरलाल नेहरू को जिम्मेदार मानते है। भाजपा के द्वारा समय-समय पर जवाहर लाल नेहरू के कार्यो में गलतियां खोज कर पब्लिक डोमेन में डाली जाती है।

तो हुआ कुछ यूं कि पूर्व में आम आदमी पार्टी के नेता और कवि कुमार विश्वास आजाद भारत के प्रथम प्रधानमंत्री के बारे में व्याख्यान दे रहे थे और इस वीडियो को लेकर दिग्विजय सिंह बेहद आश्वस्त हो गए और वीडियो को लेकर ट्विटर पर पोस्ट कर दिया।

दिग्विजय ने लिखा "पंडित जवाहर लाल नेहरू को गाली देने वाले जरा कुमार विश्वास को सुनो"

कुमार ने मौके पर चौका मार दिया:

दरअसल कवि के बारे में यह कहा जाता है कि इनके कंधे पर समाज के पुनर्जागरण की जिम्मेदारी होती है। कुमार विश्वास ने कवि धर्म का पालन करते हुए दिग्विजय सिंह को धर लिया और ऐसा जवाब दिया कि दिग्विजय सिंह के पास कोई माकूल जवाब ही बाकी नहीं रहा। दरअसल कुमार विश्वास ने दिग्विजय सिंह को ट्वीट को कोट करते हुए कहा कि " केवल यही नहीं, हमने तो बहुत कुछ बोला है सारी सुना करिये सांसद जी"

दरअसल इस ट्वीट में कुमार विश्वास ने एक ही बार मे सैकड़ो तीर चलाये जो अपने निशाने पर जाकर ठीक बैठे। दरअसल कुमार ने अपने ट्वीट में जिन इमोजी इत्यादि का प्रयोग किया है। वो कही न कहीं राहुल गांधी द्वारा संसद में आंख मारने से जुड़ा हुआ नजर आता है। वहीं कुमार विश्वास ने कई मौकों पर दिग्विजय सिंह के निजी जीवन ( विवाह इत्यादि के मामले पर ) भी बोला है लेकिन कुमार के अनुसार इस मामले पर बोलने पर कभी दिग्विजय सिंह की प्रतिक्रिया सांमने नहीं आई है।

जो भी हो इस मामले पर कवि कुमार विश्वास और दिग्विजय सिंह की जुगलबंदी लोगों द्वारा बेहद पसंद की जा रही है। लोग इस मामले को अलग-अलग एंगल से देखते हुए नजर आ रहे है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com