Delhi CM Arvind Kejriwal
Delhi CM Arvind Kejriwal |Google Image
टॉप न्यूज़

दिल्ली सरकार ने कोरोना के सामने हथियार डाल दिये है?

दिल्ली सरकार के मुखिया अरविंद केजरीवाल का ट्वीट तो यही कहानी कहता है, जिसमे उन्होंने कोरोना संक्रमितों को इलाज के लिए घर में रहने की सलाह दी है और इलाज के नाम पर दुआएं मांग डाली है।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

क्या हार मान ली है केजरीवाल ने?

दरअसल केजरीवाल के प्रति अविश्वास की भावना केजरीवाल के ही एक ट्वीट से झलक पड़ी, केजरीवाल ने दिल्ली की जनता को संबोधित करते हुए एक ट्वीट किया जिसका सार यह है कि "दिल्ली वालों अगर आपको कोरोना हो जाता है तो आपको घबराने की जरूरत नहीं है, आप में से ज्यादातर लोगों का इलाज घर मे रखकर ही किया जा सकता है, हाँ अगर तबियत ज्यादा बिगड़ी तो आपको अस्पताल लाया जाएगा"

केजरीवाल ने तो बाकायदा लोगों को होम आइसोलेशन की बातें भी बता दी।

लेकिन अगर जानकारों की माने तो दिल्ली के अस्पतालों में हालात बद से बदतर है, अस्पतालों में मरीजों को दाखिला नहीं मिल पा रहा है, लोग अस्पतालों की दहलीजों पर जाकर दम तोड़ रहे है, परिजनों के बार-बार कहने पर भी उनके टेस्ट नहीं किये जा रहे।

कुछ दिन पहले दिल्ली बीजेपी ने दिल्ली के अस्पतालों की हालत का वीडियो भेजा था जिसपर केजरीवाल ने स्थिति सही करने को लेकर वायदा किया था।

इसके साथ ही कभी केजरीवाल द्वारा यह कहा जाता है कि दिल्ली में सब कंट्रोल में है और स्थितियां हाथों से बाहर नहीं निकली है। हालाँकि केजरीवाल के बयानों को लेकर जनता में भारी दुविधा है, कि आखिर दिल्ली के सीएम कहना क्या चाहते हैं?

एक युवक ने तो बाकायदा वीडियो डालकर अपनी शिकायत दर्ज कराई है।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com