उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
मुख्यमंत्री योगी
मुख्यमंत्री योगी|Google
टॉप न्यूज़

बुलंदशहर हिंसा: CM योगी ने मृतक के परिवार को 10 लाख रूपये देने की घोषणा की, दिए गिरफ्तारी के आदेश  

बुलंदशहर में हुए हिंसा के बाद मुख्यमंत्री योगी ने समीक्षा बैठक की, जिसमें उनका पूरा ध्यान गोकशी पर रहा।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

बुलंदशहर: बीते मंगलवार बुलंदशहर जिले के स्याना गांव के खेतों में कथित रूप से गाय के कुछ अवशेष मिलने के बाद भड़की हिंसा में मारे गए पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की मौत के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समीक्षा बैठक की है। मुख्यमंत्री की समीक्षा बैठक में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की मौत पर कोई चर्चा नहीं हुए। मुख्यमंत्री का सारा ध्यान गोकशी पर था। हालांकि मीडिया को जारी की गई प्रेस विज्ञप्ति में मृत पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह के परिवार वालों को मुख्यमत्री राहत कोष से 10 लाख रूपये देने की बात कही गई है।

समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री योगी के साथ उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्य सचिव, डीजीपी, प्रमुख सचिव गृह, वरिष्ठ पुलिस महानिदेशक इंटेलिजेंस उपस्थित थे। समीक्षा बैठक के दौरान उग्र हिंसा का शिकार हुए पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह का तो जिक्र नहीं हुआ, और न ही इस हिंसा में पुलिस सुरक्षा को लेकर कोई बात हुई। लेकिन बैठक के बाद जारी प्रेस विज्ञप्ति में उन्हें जगह दी गई।

समीक्षा के बाद मीडिया को जारी किया गया प्रेस रिलीज़ 
समीक्षा के बाद मीडिया को जारी किया गया प्रेस रिलीज़ 
Google

मुख्यमंत्री योगी ने बैठक में कहा 'गोकशी में शामिल सभी लोगों के खिलाफ जांच की जाएगी , और सख्त कार्यवाही की जाएगी। बुलंदशहर में हुए कथित गोकशी की घटना को एक बड़ी साजिश का हिस्सा बताते हुए कहा 'गोकशी के मामले में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से शामिल सभी लोगों को समय पर गिरफ्तार किया जाए।'

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि अभियान चलाकर माहौल ख़राब करने वाले तत्वों को बेनकाब करके उनके खिलाफ प्रभावी कार्यवाही की जाए।

दरअसल बुलंदशहर के स्याला इलाके के जंगलों में गाय के कंकाल होने की जानकारी मिलने से दक्षिणपंथी समूहों के कार्यकर्ता हिंसा पर उतारू हो गए। मौके पर पुलिस पहुंची और भीड को समझाने की कोशिश की गई, लेकिन भीड़ नहीं मानी बल्कि और ज्यादा उग्र हो गई। भीड़ ने पुलिस पर हमला कर दिया। जिसमें पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की मौत हो गई। इसके अलावा स्थानीय निवासी सुमित की भी मौत हो गई। इसक्रम में जाँच करते हुए पुलिस ने अब तक 4 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार कर लिया है, और 50 से 60 लोगों के खिलाफ FRI दर्ज कराई गई है।