Bihar DGP Gupteshwar Pandey VRS
Bihar DGP Gupteshwar Pandey VRS|Google Image
टॉप न्यूज़

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने बिहार डीजीपी के पद से इस्तीफा दे दिया है अब लड़ेंगे चुनाव।

1987 बैच के आईपीएस अधिकारी गुप्तेश्वर पांडेय को पिछले साल बिहार का डीजीपी बनाया गया था। गुप्तेश्वर पांडेय अगले साल फरवरी में सेवानिवृत्त होने वाले थे।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय को एक कड़क प्रशासक के साथ-साथ जनता के साथ बेहद घुलने मिलने वाला पुलिस अधिकारी माना जाता रहा है। 1987 बैच के पुलिस अधिकारी ने पुलिस सेवा से खुद अवमुक्त होकर राजनीति में जाने का निर्णय लिया है। गुप्तेश्वर पांडेय जनता दल यूनाइटेड से चुनाव लड़ेंगे।हालांकि अब तक पांडेय ने इसकी घोषणा नहीं की है।

सीएम नीतीश कुमार काफी करीबी माने जाते हैं:

प्रदेश की पुलिस का मुखिया होने के नाते गुप्तेश्वर पांडेय ने हर वो जायज काम किया जिसके लिए उन्हें बिहार पुलिस के इतिहास में गिना जाएगा। बेहद शांत सरल स्वभाव के मालिक गुप्तेश्वर कामकाज में तेजी और तर्रारी के जाने जाते रहे है। बीते कुछ दिनों से अटकलें लगाई जा रही थी कि गुप्तेश्वर पुलिस विभाग से रिटायरमेंट ले सकते है। बीती शाम यह खबर आई कि उन्होंने डीजीपी के पद से सेवानिवृत्ति ले ली है। गृह विभाग ने इस बारे में अधिसूचना जारी कर दी है और मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने इस्तीफा स्वीकार कर लिया हालाँकि स्वेछिक सेवानिवृत्ति के लिए तीन महीने पहले आवेदन देना होता है लेकिन गुप्तेश्वर पांडेय की वरिष्ठता को देखते हुए इसमें मोहलत दे दी गयी।

बिहार गृह विभाग अधिसूचना
बिहार गृह विभाग अधिसूचनाबिहार गृह विभाग

सुशांत केस को ऊंचाइयों तक पहुँचाया:

जैसा कि सब जानते है सुशांत केस मुंबई से जुड़ा था लेकिन जिस तरह से गुप्तेश्वर पांडेय के नेतृत्व में बिहार पुलिस ने इस मामले में अपनी तेजी दिखाई वो काबिले तारीफ रही और इस मामले को एक राज्य से निकाल कर पूरे भारत के लोगों के सामने रख दिया। इसी मामले में डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय द्वारा रिया चक्रवर्ती की औकात को लेकर दिया गया बयान काफी चर्चा में रहा था। हालांकि इस मामले पर गुप्तेश्वर का बयान भी सामने आया था जिसमे बयान को लेकर सफाई दी गयी थी।

सेवानिवृत्ति की लग रही थी अटकलें:

ज्ञात हो कि गुप्तेश्वर पांडेय 31 जनवरी 2019 को बिहार डीजीपी के पद पर नियुक्त किये गए थे और उनका यह पद उनके रिटायरमेंट 28 फरवरी 2021 तक जारी रहने वाला था लेकिन बिहार चुनाव की आहट उन्हें सेवानिवृत्त की ओर ले गया।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com