Uday Bulletin
www.udaybulletin.com
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी|Google
टॉप न्यूज़

क्या मोदी सरकार ने भगोड़े विजय माल्या से वसूली कर्ज से ज्यादा संपत्ति ?

प्रधानमंत्री मोदी ने लोकसभा चुनाव से ठीक पहले, दिए अपने इंटरव्यू में बतया कि विजय माल्या और नीरव मोदी देश छोड़ कर क्यों भाग गए थे। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

प्रधानमंत्री मोदी ने एक टीवी चैनल को दिए अपने इंटरव्यू में विजय माल्या, पाकिस्तान और पुलवामा हमले से जुड़े कई बड़े खुलासे किये हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि, विजय माल्या पर बैंक का 9 हजार करोड़ रुपये कर्ज था। लेकिन सरकार ने करीब 14 हजार करोड़ रुपये की उसकी संपत्ति जब्त की है।

दरअसल लोकसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री मोदी टीवी चैनल रिपब्लिक भारत को अपना एक एक्सक्लूसिव इंटरव्यू दें रहे थे। जहां उन्होंने देश के सामने कई ऐसी सच्चाई रखी जिसे भारत की जनता अब तक नहीं जानती थी। जिस कांग्रेस सरकार पर भारत की जनता ने 70 सालों तक भरोसा किया, जिन्होंने देश की आजादी में योगदान दिया, महात्मा गांधी, इंदिरा गांधी और सरदार पटेल के नेतृत्व वाली कांग्रेस अब पूरी तरह भ्रष्ट हो चुकी है।

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने इंटरव्यू में बताया - "जब केंद्र में बीजेपी की सरकार बनी और मुझे देश का प्रधान सेवक बनने का मौका मिला तब मुझे पता चला देश की आर्थिक स्थिति क्या है। उस समय मेरे पास दो ही विकल्प थे -

पहला - मैं देश को सच्चाई बता दूं, कि जिन पर आपने भरोषा किया, उनलोगों ने आपके पैसे से मौज की। और

दूसरा -मैं देश हित में स्थिति सँभालने की कोशिश करूं , सब कुछ धारे-धीरे पटरी पर लेकर आऊं। और मैंने वहीं किया , पुराणी सरकारों की तरह स्वार्थी न बनते हुए मैंने सोचा मोदी अगर बदनाम होता है तो जाए, लेकिन ये मोदी देश को बदनाम नहीं होने देगा।

हमने एक्शन लिया, कानून बनाये। ये हमारी सरकार की कोशिश थी। हमारे एक्शन की वजह से आज विजय माल्या और नीरज मोदी जैसे लोग भागे हुए हैं। फिर हमने कानून बनाया कि, दुनिया के किसी भी कोने में भागे हुए लोगों की संपत्ति को जब्त किया जा सकता है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि विजय माल्या पर बैंक का 9 हजार करोड़ रुपये कर्ज था। लेकिन सरकार ने करीब 14 हजार करोड़ रुपये की उसकी संपत्ति जब्त की है। पहले भी लोग भागते थे, सरकारों को उनका नाम भी नहीं पता होता था, और पता भी चले तो वे नहीं बताती थी। हमने तो उनके खिलाफ एक्शन लिया, इसलिए उन्हें भागना पड़ा।

लोकसभा चुनाव 2019
लोकसभा चुनाव 2019
Twitter

प्रधानमंत्री मोदी ने इंटरव्यू और भी कई अहम बातें कहीं , आइए जानते हैं -

चाय वाला पीएम

चाय पर बात करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा - जब मैं प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बना तब चाय वाले का विषय एकदम से उभरकर सामने आया और अचानक एक इंसान के चाय वाला होने पर गाली दी जाने लगी। तब मैंने कहा कि हां भाई मैंने अपना जीवनयापन चाय बेचकर किया है।

पुलवामा में संतुलित व्यवहार

पुलवामा हमले पर बात करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा - पुलवामा हमले के समय मैं उत्तराखंड में था। वहां मेरी एक रैली थी, जिसमें तेज बारिश के कारण मैं नहीं पहुंच पाया और बाद में मैंने फ़ोन से संबोधित किया। ऐसी स्थिति में बहुत संतुलित व्यवहार करना होता है। लेकिन अगर कोई इसे मुद्दा बनाता है, तो वो बड़ी राजनीतिक नासमझी है।

पाकिस्तान और इमरान को सबक

पाकिस्तान पर बोलते हुए प्रधानमंत्री ने कहा - भारत द्वारा दिए गए किसी भी सबूत पर आज तक पाकिस्तान ने कोई कार्रवाई नहीं की। हमारी लड़ाई पाकिस्तान की जनता के खिलाफ नहीं बल्कि आतंकवाद के खिलाफ है। जब इमरान खान प्रधानमंत्री बने तो मैंने उन्हें फ़ोन कर के कहा, भारत और पाकिस्तान को गरीबी के खिलाफ साथ मिल कर लड़ना चाहिए, आतंकवादपाल कर आपको क्या मिलता है , भारत आज तेजी से विकसित करने वाली दुनिया की छठि अर्थव्यवस्था हैं। हमें साथ मिल कर काम करना चाहिए।

मैं भी चौकीदार हूं

प्रधानमंत्री ने अपने चुनावी कैंपेन 'मैं भी चौकीदार हूं' पर बात करते हुए कहा - चौकीदार शब्द मैंने खुद के लिए 2013-14 के कैंपेन में बोले थे। उसमें चौकीदार कोई व्यवस्था नहीं है बल्कि ये एक Spirit है। जब इसपर उन्होंने अमर्यादित भाषा का प्रयोग किया, तब मैंने देश से कहा कि जिन बातों के लिए मुझे गालियां दी जा रही है, वो चौकीदार मैं हूं।

प्रधानमंत्री ने कहा - एक कांग्रेसी नेता ने मुझपर आरोप लगाया कि मेरे पास 250 जोड़ी कपडे हैं। उस समय मैं एक मीटिंग के लिए जा रहा था। वहां मैंने लोगों से पूछा आपको 250 जोड़ी कपड़ों वाला पीएम चाहिए या 250 करोड़ घोटाला करने वाला पीएम।