जहरीली शराब पीने से हुई 5 लोगों की मौत
जहरीली शराब पीने से हुई 5 लोगों की मौत|Google
टॉप न्यूज़

Live जहरीली शराब मामला : मरने वालों की संख्या बढ़कर हुई 16 , मुठभेड़ के बाद मुख्य आरोपी गिरफ्तार 

उत्तर प्रदेश में बरकरार है शराब का कहर। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में एक बार फिर जहरीली शराब के नशे से 10 लोगों की मौत हो गई है। यह मामला रामनगर थानाक्षेत्र का बताया जा रहा है। पुलिस के अनुसार जिस शराब को पीने से 10 लोगों की मौतें हुई हैं, उसे देशी शराब के एक स्थानीय ठेके से खरीदा गया था। इस घटना में मारे गए 4 लोग एक ही परिवार के थे।

मुठभेड़ के बाद मुख्य आरोपी गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश पुलिस ने बाराबंकी में हुए जहरीली शराब के मामले के मुख्य आरोपी पप्पू जायसवाल को बुधवार तड़के एक मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। यहां जहरीली शराब पीने से 16 लोगों की मौत हो गई थी।

यहां अमरई कुंड के निकट दोनों पक्षों में गोलीबारी हुई जिसमें जायसवाल के पैर में गोली लग गई। उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

शराब की दुकान पर बैठने वाले सुनील जायसवाल और पीतांबर को मंगलवार शाम गिरफ्तार कर लिया गया था। दुकान का मालिक दानवीर सिंह अभी भी फरार है।

बाराबंकी मामले में सीओ, इंपेक्टर समेत 11 पर गिरी गाज

जहरीली शराब पीने से पांच लोगों की मौत हो गई है, जबकि एक दर्जन से ज्यादा लोगों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इस प्रकरण में पुलिस महानिदेशक (आईजी) ओपी सिंह ने क्षेत्राधिकारी (सीओ) पवन गौतम और पुलिस निरीक्षक रामनगर राजेश कुमार सिंह को निलंबित कर दिया है। उधर, बाराबंकी के जिलाधिकारी उदयभानु त्रिपाठी ने अब तक पांच लोगों के मरने की पुष्टि की है।

घर में नहीं बचा कोई कंधा देने वाला

रमेश की पत्नी रामावती ने बताया कि घर में शव को कंधा देने वाला भी कोई नहीं बचा। ग्रामीणों का आरोप है कि दानवीर सिंह की नकली शराब बनाने की एक अवैध फैक्ट्री है। यह नकली शराब उसकी सरकारी ठेके वाली दुकान पर बेची जाती है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक पहुंचा मामला

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मामले पर संवेदना व्यक्त की है और आबकारी विभाग के प्रमुख सचिव को जांच के आदेश दिए हैं।

पुलिस की कार्रवाई

पुलिस अधीक्षक अजय कुमार साहनी के पीआरओ शैलेन्द्र आजाद के मुताबिक, "मरने वालों में एक ही परिवार के चार लोग - रमेश कुमार, सोनू, मुकेश और छोटेलाल तथा एक अन्य व्यक्ति महेंद्र की मौत हो गई है।"

यूपी में शराब का कहर

बताया जा रहा है कि शराब से मरने लोगों ने सोमवार की रात रानीगंज कस्बा स्थित देशी शराब की दुकान से शराब खरीद कर पी थी। सभी को पेट दर्द व उल्टी-दस्त की शिकायत पर सीएचसी पर ले जाया गया। जहां से उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। जिसमें से चार लोगों की जिला अस्पताल में ही मौत हो गई।

पहले भी हुई है शराब से मौत

11 जनवरी 2018 को जिले के देवा और रामनगर क्षेत्र में 24 घंटे के अंदर 11 लोगों की मौत हुई थी। सभी को पेट दर्द व उल्टी-दस्त की शिकायत पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र व जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। प्रथम²ष्टया मौतों का कारण जहरीली शराब अथवा स्प्रिट का सेवन बताया जा रहा था।

शराब की घटना पर लेखपाल, सदर बडेल कहते हैं

"मुझे जानकारी मिली है कि रामनगर में आठ लोगों की मौत हो गई है। आज, 3 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जिनमें से एक व्यक्ति का निधन हो गया है।"

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में मंगलवार को जहरीली शराब पीने से 10 लोगों की मौत

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में मंगलवार को जहरीली शराब पीने से एक ही परिवार के चार लोगों समेत पांच व्यक्तियों की मौत हो गई। ये मामले रामनगर थानाक्षेत्र के अलग-अलग गांवों के हैं।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com