बाँदा में सट्टा माफिया पर हुई कार्यवाही, संपत्ति समेत बैंक खाते सीज हुए

उत्तर प्रदेश में इन दिनों माफिया के खिलाफ सरकार ने केवल लामबंद होकर काम कर रही है बल्कि इसपर एक युद्ध स्तर के हिसाब से काम किया जा रहा है, इसका एक नजारा उत्तर प्रदेश के बाँदा जिले में नजर आया
बाँदा में सट्टा माफिया पर हुई कार्यवाही, संपत्ति समेत बैंक खाते सीज हुए
Banda Gangster shyam mohan dhuriya Property seizedTwitter

उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश के बड़े माफिया मुख्तार अंसारी और उनके जैसे अन्य माफियाओं के खिलाफ काम करते हुए अब छोटे स्तर के माफियाओं पर नकेल कसना शुरू कर दिया है। जिले में सट्टा माफिया नाम से चर्चित श्याम मोहन धुरिया पर प्रशासन ने अपना कड़ा रुख दिखाते हुए चल और अचल संपत्ति को कुर्क करके कब्जे में ले लिया। ज्ञात हो कि जिले में राजनीति में दखल रखने वाले किसी माफिया पर यह पहली कार्यवाही है जिसको राजनैतिक रसूख रखने वाले माफिया सरकार के दांव पेंच के आगे ढीले नजर आ रहे है।

वर्षों से जुटाई अकूत संपत्ति:

अगर प्रशासन की माने तो आरोपी श्याम मोहन धुरिया ने वर्षों से सरकार और प्रशासन की आंखों में धूल झोंककर सट्टे और जुएँ का कारोबार चलाया है, इसमें नाल बंद जुआँ, आईपीएल सट्टा इत्यादि ने श्याम मोहन धुरिया को फर्श से अर्श तक पहुँचा दिया, हालाँकि प्रशासन ने गाजे बाजे के साथ कार्यवाही करते हुए आवासीय मकान समेत अन्य संपत्तियों को सीज कर दिया साथ ही श्याम मोहन धुरिया के बैंक खाते भी सीज कराए गए है।

बाकायदा मुनादी करवा कर जिले की जनता को संदेश दिया गया कि योगी राज में माफियागीरी नही चल सकती

एक करोड़ से ज्यादा की संपत्ति जब्त:

अगर प्रशासन की माने तो जमीन, आवासीय मकान और खातों की बदौलत करीब डेढ़ करोड़ के आस पास की संपत्ति जब्त की गई है, इस जब्ती में मकान, जमीन, दुकान, बैंक खाते इत्यादि शामिल है, इस कार्यवाही के बाद श्याम मोहन धुरिया को कानूनी रूप से दिवालिया बना दिया गया है, प्रशासन ने इस बारे में बताया कि स्वस्थ्य समाज मे ऐसे लोगों की कोई आवश्यकता नही है, जो भी व्यक्ति अनैतिक तरीके से कार्य करेगा जिला प्रशासन अपनी कार्यवाही करने के लिए बाध्य होगा।

पुलिस ने बताया कि माफिया ने किस तरीके से धन कमाया था:

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com