बाबा का ढाबा चलाने वाले कान्ता प्रसाद ने यूटूबर गौरव के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई

बाबा के ढाबा केओनर कांता प्रसाद ने उनके ढाबे को फेमस करने वाले यूटूबर गौरव वासन के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई।
बाबा का ढाबा चलाने वाले कान्ता प्रसाद ने यूटूबर गौरव के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई
Baba ka Dhaba Uday Bulletin

कांता प्रसाद ने अपने वकील और नए मैनेजर यूटूबर तुशान्त के साथ इस मामले में बाकायदा प्रेस कांफ्रेंस की और गौरव वासन पर पैसो की हेराफेरी को लेकर आरोप लगाए। प्रेस कॉन्फ्रेंस में यूटूबर से मैनेजर बने तुशान्त ने गौरव पर लोगों द्वारा दिये गए डोनेशन को खुद के खातों में लेने और बाबा कांता प्रसाद को पूरी रकम मुहैया न कराने की बात कही।

बदल गया है बाबा का मिजाज:

अब इसे बदलता हुआ समय कहें या कुछ और जिस दिन ब्लागर गौरव वासन ने अपने चैनल स्वाद ऑफिसियल पर बाबा की स्थिति के बारे में बताया तो बाबा कान्ता प्रसाद बेहद बुजुर्ग और असहाय नजर आ रहे थे लेकिन अचानक से बाबा के तेवर बदले-बदले नजर आ रहे थे। बीते दिन कान्ता प्रसाद ने ही अपने जीवन स्तर ऊपर उठाने वाले गौरव पर बाकायदा एफआईआर दर्ज कराकर प्रेस कॉन्फ्रेंस की जिसमे उन्होंने अपने वकील और सहयोगी दूसरे यूटूबर तुशान्त की मौजूदगी में रुपयों मि हेराफेरी के आरोप लगाए।

तुशान्त ने बताया कि इस मामले में मालवीय नगर थाने में भारतीय दंड संहिता की धारा 420 के तहत मुकदमा पंजीकृत कराया। बाबा के वकील और तुशान्त द्वारा प्रेस कांफ्रेंस में यह कहा गया कि इस मामले में जांच होनी चाहिए क्योंकि गौरव ने बाबा के खाते को सार्वजनिक करने से मना क्यो किया साथ ही लोगो को दान देने के लिए गौरव ने अपने परिवारजनों के खाते नम्बर और यूपीआई इत्यादि मुहैया कराए।

गौरव ने कहा सारा सच सामने है जांच कराओ:

मामले में यूटूबर गौरव वासन ने साफ-साफ लहजे में लोगों से कहा कि अगर किसी को कोई शक है तो इसकी जांच होनी चाहिए। मैं हर प्रकार की जांच के लिए तैयार हूँ लेकिन बिना जांच के किसी के ऊपर फ़्रॉड का ठप्पा लगाना जॉयज नहीं होगा।

गौरव वासन ने रेडियो मिर्ची को दिए गए एक इंटरव्यू में इस मामले में काफी ज्यादा रोशनी डाली और गौरव ने बताया कि वह बाबा कान्ता प्रसाद को लेकर बेहद आत्मीय हो गए थे जिसमें उन्होंने जरूरत से ज्यादा आगे बढ़कर अपने आपको पेश किया। जो कि उन्हें नहीं करना चाहिए था।

मामले पर पुलिस कमिश्नर दक्षिण ने जानकारी देते हुए बताया कि इस मामले में मुकदमा पंजीकृत हुआ है। पुलिस इस मामले में जांच करके सारा सच सामने लाएगी हालांकि लोगों की सहानुभूति अब कान्ता प्रसाद से हटकर गौरव वासन के साथ जा रही है। लोग बाबा को दूसरा रानू मंडल बता रहे है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com