भारत मे कोविड वैक्सीन को आपातकाल में लगाने की मंजूरी

कोरोना वैक्सीन को इमरजेंसी यूज की मंजूरी
भारत मे कोविड वैक्सीन को आपातकाल में लगाने की मंजूरी
कोरोना वैक्सीन को इमरजेंसी यूज की मंजूरीGoogle Image

ऑक्सफोर्ड-एस्ट्रैजेनेका की कोविड वैक्सीन "कोविशील्ड" को भारत मे आपातकालीन स्थिति में लगाने की मंजूरी दे दी गयी है। भारत मे यह फैसला उस वक्त आया है जब दुनिया भर में कोरोना के नए स्ट्रेन का प्रभाव बेहद तेजी से फैल रहा है।

समिति ने दी मंजूरी:

सेंट्रल स्टैंडर्ड ड्रग कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन ने लंबे विचार विमर्श और रिसर्च डाटा के आधार पर भारत मे कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते इस दवा के इमरजेंसी प्रयोग की अनुमति उपलब्ध कराई है। कमेटी का मानना है कि जब हालात बेहद खराब होने लगते है तो आशा की एक किरण भी बहुत बड़ी उम्मीद से देखी जाती है इस लिहाज से अगर आकड़ो की बात करें तो यह वैक्सीन कोरोना में अब तक काफी हद तक असर दिखा चुकी है वही वैक्सीन निर्माताओं ने इस बारे में भी जानकारी उपलब्ध कराई है कि नए कोविड स्ट्रेन में भी यह दवा कारगर साबित होगी।

भारत मे निर्मित है वैक्सीन:

दुनिया भर में अपनी वैक्सीन का लोहा मनवाने वाली कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने ब्रिटिश यूनिवर्सिटी ऑक्सफोर्ड और एस्ट्रैजेन्का के मदद से इस वैक्सीन को तैयार किया है। इस वैक्सीन के भारत मे लगातार परीक्षण चल रहे है जिनके सकारात्मक परिणाम सामने आए है। सनद रहे कि दुनिया भर में वैक्सीन निर्माण में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया का बेहद बड़ा नाम है और यह निर्माणी दुनिया भर में सबसे ज्यादा वैक्सीन का निर्माण करती है।

क्या हो सकती है कीमत:

अगर कीमत के बारे में जानकारी ले तो अनुमान के हिसाब से यह वैक्सीन दो डोज के बाद ही अपना असर दिखाती है और भारत सरकार जब इस वैक्सीन को खरीदेगी तो इसका मूल्य 200 रुपये प्रति डोज पहुँचेगा। इस हिसाब से यह वैक्सीन भारत सरकार को 400 रुपये के आसपास मिलेगी वहीँ अगर कोई व्यक्ति इसे निजी रूप से लेना चाहेगा तो यह वैक्सीन करीब 1000 रुपये प्रति डोज की कीमत पर मिल सकेगी इस प्रकार से इसे लगवाना 2000 रुपये तक पैड सकता है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com