किसान यात्रा के मद्देनजर अखिलेश यादव हुए नजरबंद

योगी सरकार ने सपा प्रमुख और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्य मंत्री अखिलेश यादव को समाजवादी पार्टी की किसान यात्रा निकालने से पहले नज़रबंद किया।
किसान यात्रा के मद्देनजर अखिलेश यादव हुए नजरबंद
Akhilesh YadavGoogle Image

उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना संक्रमण फैलने का डर दिखाकर प्रदेश भर में समाजवादी पार्टी की किसान यात्रा को बंद रंखने का बंदोबस्त किया है। सरकार ने एहतियातन सपा प्रमुख अखिलेश यादव को उनके आवास पर नजरबंद कर दिया है साथ ही प्रदेश भर में सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद कर दी है।

अखिलेश हुए नजरबंद:

देश भर में चल रहे किसान आंदोलन को समर्थन देने के लिए उत्तर प्रदेश की राजनीतिक पार्टी समाजवादी पार्टी द्वारा प्रदेश भर में सोमवार 7 दिसंबर को किसान यात्रा को करने का प्लान बनाया था। खुद अखिलेश यादव सपा का गढ़ कहे जाने वाले क्षेत्र कन्नौज से इस यात्रा का नेतृत्व करने वाले थे। इससे पहले ही उत्तर प्रदेश सरकार ने इस पर पूर्णविराम लगा दिया और सरकार ने समाजवादी पार्टी के बड़े नेताओं को उनके आवास में ही नजरबंद कर दिया है।

वहीं सपा के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को उनके आवास में ही नजरबंद कर दिया गया है। सख्ती का आलम यह है कि सरकार ने अखिलेश यादव की निजी एसपीजी सुरक्षा (SPG Protection) को भी आवास में जाने से मना कर दिया है।

अखिलेश ने भरी हुंकार:

सनद रहे कि इससे पहले सपा मुखिया ने प्रदेश भर के युवाओ से किसानों के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जताने के लिए किसान यात्रा में शामिल होने के लिए आवाहन किया था।

अखिलेश यादव ने आवाहन के ट्वीट में लिखा था....

क़दम-क़दम बढ़ाए जा, दंभ का सर झुकाए जा ये जंग है ज़मीन की, अपनी जान भी लगाए जा ‘किसान-यात्रा’ में शामिल हों!

हालांकि इस ट्वीट के बाद सरकार ने शिकंजा कस्ते हुए किसान यात्रा को लगभग प्रतिबंधित ही कर दिया। इस पर अखिलेश यादव ने तंज कसते हुए दूसरा ट्वीट भी किया जिसमें यह कहा गया कि...

जहां तक जाती नज़र वहां तक लोग तेरे ख़िलाफ़ हैं

ऐ ज़ुल्मी हाकिम तू किस-किस को नज़रबंद करेगा!

हालांकि यह भी सही है कि अखिलेश यादव सरकार के इस कदम से पहले से परिचित रहे होंगे चूंकि मुख्यमंत्री होने का अनुभव उन्हें भी है। जानकारों के मुताबिक समाजवादी पार्टी इसके लिए पहले से तैयार रही होगी। इस प्रकार से प्रदेश में भारी पुलिस बल के तैनाती के बाद भी प्रदेश में कहीं-कहीं यात्राओं के निकाले जाने की आशंका है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com