अंधविश्वास: बाँदा में देवी की भक्ति के चलते युवक ने जीभ काटकर देवी को अर्पित की

कहते है भक्ति तब तक जायज है जब तक वह कल्याणकारी हो, इसमें जब हिंसा और अंधविश्वास जुड़ता है यह खतरनाक हो जाती है
अंधविश्वास: बाँदा में देवी की भक्ति के चलते युवक ने जीभ काटकर देवी को अर्पित की
दमोह जिले के हिंडोरिया में मन्नत पूरी होने पर एक मां ने अपनी जीभ काट कर मां दुर्गा को कर दी भेंट Twitter

ताजा मामला उत्तर प्रदेश के बाँदा से जुड़ा हुआ है जहाँ पर एक युवक द्वारा देवी को जीभ काट कर चढ़ाई गयी है।

जीभ काटकर देवी को चढ़ाई:

मामला बाँदा जिले के बबेरू थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम भाटी से जुड़ा है जहां के लगभग 32 वर्षीय युवा आत्माराम द्वारा गांव के सिद्ध स्थान खेड़ापति में जीभ काटकर चढ़ाने की घटना संज्ञान में आई है। बबेरू थानाध्यक्ष जय श्याम शुक्ला ने इस मामले में जानकारी देते हुए बताया कि उक्त युवक नौ दिनों से व्रत रखकर देवी की उपासना कर रहा था, अंतिम पूजा करने के लिए युवक गांव के ही खेरा पति स्थान में देवी पूजन करने के लिए गया जहां पर इसने पूजा करने के उपरांत अपनी जीभ काटकर देवी को चढ़ा दी, थानाध्यक्ष ने बताया कि गांव वालों ने यह जानकारी दी है कि युवक मानसिक रूप से कमजोर है, युवक को अस्पताल में भर्ती किया गया है जहां पर उसकी हालत स्थिर बतायी गयी है।

पिता ने कहा बेटे को बरगलाया गया है:

मामले पर युवक आत्माराम के पिता राम सिंह ने पुलिस को यह जानकारी दी है कि यह मेरे बेटे द्वारा किया गया कृत्य नहीं है बल्कि मेरे बेटे को देवी को प्रसन्न करने की बात को कहकर बरगलाया गया है। पुलिस ने जांच को आगे बढ़ाया है, हालाँकि पुलिस युवक के शांत चित्त होने का इंतजार कर रही है।

ज्ञात को की बीते दिन मध्यप्रदेश के दमोह जिले में भी एक ऐसा ही मामला संज्ञान में आया था जिसमें एक महिला ने अपनी मन्नत पूरी होने के चलते देवी को अपनी जीभ काट कर चढ़ाई थी।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com