उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
प्रतीकात्मक चित्र
प्रतीकात्मक चित्र|गूगल
टॉप न्यूज़

💥 टेलीपैथी से प्रेग्नेंट हुई महिला, परिवार सकते में 

जनाब दुनिया चांद और मंगल पर जीवन की संभावनाओं को तलाश रही है और निजी मजे के चक्कर में कुछ लोग घर को नरक बनाने पर तुले है और तर्क भी ऐसे-ऐसे की आपके नीचे की जमीन सरक जाए। 

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

Summary

टेलीपैथी से याद आया, गीता विश्वास जो शक्तिमान से टेलीपैथी से बात किया करती थी, अपने हांथो की उंगलियों को सर पर लगाकर, लेकिन यहाँ तो एक महिला उससे भी आगे निकल गयी, मामला बिहार के भागलपुर का है यहाँ जगदीशपुर थाना क्षेत्र में एक महिला का दावा है कि उसके पति ने उसे सपने में आकर गर्भवती कर दिया, ये तर्क अब लोगो की नींद हराम किये हुए है।

हुआ कुछ ये कि एक विवाहिता की ननद यानी कि पति की बहन ( लोक कथाओं में इसे बड़ा तेजतर्रार माना जाता है) अपनी भाभी की शिकायत लेकर डीआईजी के ऑफिस जा पहुंची और शिकायत दर्ज कराई की मेरी भाभी तीन माह से प्रेगनेंट है जबकि मेरा भाई लंबे समय से शहर से बाहर कोलकाता में रहकर नौकरी कर रहा है, युवती ने अपनी भाभी के गर्भ की डीएनए जांच की मांग करदी।

मौके की नजाकत को देखते हुए डीआईजी ने चिकित्सकीय जांच का आदेश दिया और जांच में पाया गया कि महिला करीब 2 माह और 18 दिन की गर्भवती है।

घरवालों को दे रही है धमकी :

नंनद के अनुसार उसकी भाभी इस गर्भ के बारे में पूंछने पर घरवालों को झूंठे केस में फसाने की धमकी दे रही है, ननद ने बताया कि हम इस महिला को अपने घर में नहीं रखना चाहतें, और यह जबरजस्ती हमारे घर पर रहने को आमादा है।

महिला के है अजीब तर्क :

जब मामला पूरे गांव में फैल गया तो घरवालो ने पंचायत रखी, जिसमें युवती के घर परिवार वाले भी शामिल थे, पंचायत में इस प्रेग्नेंसी के सबब पूंछने पर युवती ने बताया कि मेरे पति भले ही बाहर है लेकिन ये हर रात मेरे सपने में आकर मुझसे प्यार करते थे, जिसकी वजह से मैं गर्भवती हुई हूँ, ये तर्क मौके पर मौजूद सभी लोगो को सकते में डाल गया, हालाँकि जब जांच पड़ताल के अंतर्गत पंचायत ने महिला के फोन को खंगाला तो पड़ोस में रहने वाले युवक के साथ उसके सम्बंध होने की बात सांमने आई और ऐसे पुख्ता सबूत मिले की महिला उस लड़के के साथ शरीरिक संबंध बना चुकी है और गर्भ में पल रहे बच्चे/ बच्ची का असली पिता यही है।

पति अब अपने साथ रखने के मूड में नही :

पंचायत और चिकित्सकीय जांच के बाद पति ने अपनी पत्नी को अपने साथ रखने से मना कर दिया है और अपनी संपत्ति में कोई भी हिस्सा देने से भी इंकार किया है।

मामला कुछ भी हो, लेकिन क्षेत्र में इस दैवीय गर्भधारण को लेकर चर्चाएं जोरो पर है, हालाँकि लोग यह जानते है कि यह मामला विवाहोत्तर शरीरिक संबंध का है फिर भी लोग इस कथित टेलीपैथी मामले को बड़े चाव से सुनाते नजर आ रहे है।