उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
अंधेरी के ESIC hospital  में लगी आग,
अंधेरी के ESIC hospital में लगी आग,|Google
टॉप न्यूज़

मुंबई : अंधेरी के ESIC अस्पताल में लगी आग, मृतकों की संख्या बढ़कर 8 हुई, 150 से अधिक लोगों को बचाया गया। 

बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) आपदा नियंत्रण अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि 176 लोगों को बचा लिया गया है जबकि अन्य अस्पतालों में भर्ती 25 लोगों की हालत गंभीर है।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

मुंबई | मुंबई के अंधेरी (Andheri, Mumbai) स्थित कर्मचारी राज्य बीमा निगम अस्पताल (ESIC hospital) में सोमवार को भीषण आग लगने की घटना में मृतकों की संख्या मंगलवार को बढ़कर आठ हो गई। बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) आपदा नियंत्रण अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि 176 लोगों को बचा लिया गया है जबकि अन्य अस्पतालों में भर्ती 25 लोगों की हालत गंभीर है। मरने वालों में छह महीने का बच्चा भी है।

BMC अधिकारी ने कहा कि 142 लोगों का शहर के सार्वजनिक और निजी अस्पतालों में इलाज किया जा रहा है जबकि अब तक 26 लोग डिस्चार्ज हो चुके हैं। फायर ब्रिगेड की 10 गाड़ियां आग बुझाने में जुटीं हुई हैं। घायलों के बचाव के लिए एक बचाव वाहन और 16 एंबुलेंस भी मौके पर मौजूद है। अधिकारियों ने बताया कि कुछ लोगों के अभी भी फंसे होने का अंदेशा है। राहत और बचाव अभियान जारी है।

इस दुर्घटना के शिकार आठ लोगों में अधिकांश की मौत दम घुटने से हुई जबकि एक शख्स की मौत अस्पताल (ESIC hospital) की तीसरी मंजिल से कूदने से हुई।इस आपदा में मरने वालों में अधिकतर मरीज और अस्पताल के कर्मचारी थे। बीएमसी (BMC) आपदा नियंत्रण ने यह जानकारी दी। आग शाम करीब सवा चार बजे लगी। यह आग एमआईडीसी इलाके स्थित पांच मंजिला इमारत की ऊपरी मंजिल पर लगी। यह इलाका उत्तरी-पश्चिमी उपनगर का औद्योगिक केंद्र है।

मारोल एमआईडीसी स्थित पांच मंजिला अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर के पास आग लगी थी। आग लगने का कारण शॉट सर्किट हो सकता है जो तेजी से फैल गई और 155 लोग इमारत में फंस गए।

दमकलकर्मियों ने सीढ़ियों जबकि अन्य बचावकर्ताओं ने तीसरी और चौथे मंजिलों पर फंसे लोगों को निकालने के लिए रस्सियों और साड़ियों का इस्तेमाल किया।

केन्द्रीय श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने मुंबई के ESIC हॉस्पिटल (ESIC hospital) में आगजनी में मारे गये लोगों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है। श्रम मंत्रालय ने एक बयान में कहा है कि केंद्रीय श्रम और रोजगार मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिवार वालों को 10-10 लाख रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की है। वहीं आगजनी में गंभीर रूप से घायल लोगों को दो-दो लाख रुपये और मामूली रूप से घायल लोगों को एक-एक लाख रुपये देने की घोषणा की है।

आपको बता दें कि, ESIC अस्पताल (ESIC hospital) से सुरक्षित निकाले गए लोगों में से 10 को कूपर अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां एक को मृत लाया गया था। होली स्पिरिट अस्पताल और सेवन हिल्स अस्पताल में 15-15 लोगों को भर्ती कराया गया है, वहीं 7 को इलाज के लिए ट्रॉमा अस्पताल में भेजा गया है।